DDT News
बागरासामाजिक गतिविधि

विश्वकर्मा जयंती को लेकर निकाली शोभायात्रा, सम्मान समारोह में 100 से अधिक प्रतिभाओं को किया सम्मानित

  • सौ से अधिक प्रतिभाओं को किया सम्मानित
  • जागनाथ महादेव मठ महंत महेंद्र भारती ने की शिरकत
  • आगामी वर्ष की जयंती के चढ़ावे बोले गए

देवेन्द्रराज सुथार @ बागरा. कस्बे के विश्वकर्मा मंदिर में धूमधाम व हर्षोल्लास पूर्वक विश्वकर्मा जयंती का आयोजन किया गया। सुबह मंदिर प्रांगण में पंडितों द्वारा मंत्रोच्चार के साथ लाभार्थी दलाराम सुपुत्र प्रभुलाल नून, देशाराम सुपुत्र भूराराम बागरा, संपत सुथार सुपुत्र प्रागलमल सुथार परिवार द्वारा हवन किया गया। वहीं पकाराम, खेताराम, अमराराम नून परिवार द्वारा हवन में आरती की गई एवं लाभार्थी प्रताप सुपुत्र भीमाराम सुथार बागरा परिवार द्वारा हवन में प्रसाद का वितरण किया गया।

हवन में आहुति देता लाभार्थी परिवार

तत्पश्चात महाप्रसादी के लाभार्थी घेवरचंद, मुकेश कुमार सुपुत्र प्रतापराम, नरेश, धीरज सुपुत्र घेवरचंद, महेंद्र, जयंतीलाल, हरसन सुपुत्र मुकेश कुमार बाकरा गांव परिवार द्वारा भगवान विश्वकर्मा को महाप्रसादी का भोग लगाया गया।

Advertisement
महाप्रसादी के लाभार्थी
ढोल-धमाकों के साथ निकली शोभायात्रा

दोपहर को ढोल धमाकों के साथ विश्वकर्मा मंदिर प्रांगण से शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें गणेशाराम सुपुत्र कपूराराम लाभार्थी परिवार चूरा द्वारा भगवान विश्वकर्मा की प्रतिमा को रथ में विराजमान किया गया एवं कैलाश कुमार, दिनेश कुमार, गुलाब कुमार परिवार द्वारा भगवान को रथ में हार अपनाया गया। लाभार्थी परिवार मोहनलाल सुपुत्र कूपाराम बागरा द्वारा शोभायात्रा में गुलाल वर्षा की गई। साथ ही मीठालाल सुपुत्र भीमाराम सुथार लाभार्थी परिवार डूडसी ने शोभायात्रा में चंवर ढोलने का लाभ लिया।

शोभायात्रा

वहीं इन्द्रमल, हिरालाल सुपुत्र कछुआराम चूरा परिवार शोभायात्रा में सारथी बनें। शोभायात्रा में अखंड ज्योत के लाभार्थी शांतिलाल सुपुत्र जेपाजी सुथार नून रहें। वहीं शोभायात्रा में प्रसाद वितरण पोसाराम सुपुत्र जेपाजी परिवार डूडसी द्वारा किया गया। रथ में आरती के लाभार्थी जवानमल सुपुत्र पिराराम सुथार देलदरी, झालर बजाने के लाभार्थी जयंतिलाल सुपुत्र शिवलाल सुथार बागरा एवं पुष्पवर्षा के लाभार्थी कोनाराम सुपुत्र भलाजी सुथार बाकरा गांव रहें।

Advertisement
लाभार्थी परिवार का हुआ बहुमान
महाप्रसादी के लाभार्थी

विश्वकर्मा जयंती 2023 में चढ़ावा लेने वाले लाभार्थी परिवार का बहुमान एवं अनुमोदना की गई। जिसमें साफा द्वारा थानमल परिवार डूडसी, पुष्पहार द्वारा प्रताप परिवार डूडसी, तिलक द्वारा रमेश सुथार चुरा परिवार द्वारा चढ़ावा लाभार्थियों का बहुमान किया गया।

आगामी वर्ष की जयंती के चढ़ावे बोले गए

विश्वकर्मा युवा मंडल संस्थान के प्रांगण में कमलेश पंडित द्वारा आगामी वर्ष की जयंती के चढ़ावे बोले गए। इस दौरान जागनाथ महादेव मठ के महंत महेंद्र भारती का सानिध्य रहा।

Advertisement
आगामी वर्ष की जयंती के चढ़ावे
सम्मान समारोह में किया प्रतिभाओं को सम्मानित
सुथार समाज की सम्मानित प्रतिभाएं

दोपहर 3 बजे प्रतिभा सम्मान व सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रतिभा सम्मान समारोह के तहत आठवीं, दसवीं, बारहवीं, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन व खेलकूद व साहित्य गतिविधियों में उल्लेखनीय उपाधि अर्जित करने वाली समाज की 100 से अधिक प्रतिभाओं को फाइल, किट, स्कूल बैग, स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

जागनाथ महादेव महंत महेंद्र भारती ने की शिरकत
जागनाथ महंत महेंद्र भारती से सम्मानित होते समाजबंधु।

सम्मान समारोह के तहत जागनाथ महादेव के महंत महेंद्र भारती ने शिरकत की एवं समाजबंधुओं को अपने आशीष वचनों से लाभांवित किया।

Advertisement
सांस्कृतिक कार्यक्रम का बंधा समां
पारंपरिक नृत्य प्रस्तुत करती महिलाएं

सम्मान समारोह के बीच समाज की कई नव प्रतिभाओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। जिसमें अनेक नून, कुसुम नून, जानकी सुथार, जया सुथार, हर्षिता, तमन्ना, मोनिका, पलक, दिव्या, मानवी, कुकी द्वारा सामाजिक एवं देशभक्ति गीतों पर नृत्य प्रस्तुत किया। साथ ही चूरा के पंकज सुथार ने जगिया-पिंटिया स्टाइल मारवाड़ी कॉमेडी कर समाजबंधुओं को हंसने पर मजबूर कर दिया।

ये रहे मौजूद
समारोह में मौजूद समाजबंधु

इस मौके पर संपतलाल सुथार, आंसुलाल सुथार, नोपाराम सुथार, नरेश सुथार, भंवरलाल सुथार, डूंगाराम सुथार, लालाराम सुथार, निलेश सुथार, रमेश सुथार, देशाराम सुथार, हस्मीमल सुथार नून, छगनलाल सुथार सांथू, उकाराम सुथार नून, सतीश सुथार, बाबूलाल सुथार, शंकर सुथार, वागाराम सुथार, गिरधारी सुथार, लादूराम सुथार, पारसाराम सुथार, पारसमल चूरा, रमेश सुथार आकोली, कांतिलाल सुथार, वंजीगाराम सुथार, वीसाराम सुथार, अमराराम सुथार नून, खंगाराराम सुथार, समरथाराम सुथार, जितेंद्र सुथार, राजेश सुथार समेत सांथू, चूरा, नून, बाकरा गांव, बाकरा रोड, आकोली, रेवत, डूडसी के विश्वकर्मा वंश ढंढार पट्टी के सुथार समाज बंधु मौजूद रहे।

Advertisement

 

Advertisement

Related posts

पर्यावरण की सुरक्षा के लिए पौधरोपण आवश्यक – विष्णु स्वरूप महाराज

ddtnews

सौंदर्य व हरियाली के लिए नारणावास पंचायत क्षेत्र के सरकारी भवन परिसर में किया पौधरोपण

ddtnews

सियाणा शिविर में 2 भामाशाहों ने 4 टीबी मरीजों को लिया गोद

ddtnews

राजस्थान को भ्रष्टाचार से मुक्त करने के लिए एसीबी प्रयासरत – महावीर सिंह राणावत

ddtnews

बच्चों को कुपोषण मुक्त बनता आंगनबाड़ी केंद्र

ddtnews

Leave a Comment