DDT News
जालोर

प्रदेशभर में अभावों की सुनवाई करने वाले पाराशर के जालोर कार्यालय से पांच सौ मीटर दूर इतनी बड़ी समस्या से घिरे लोग, जहां जीना हो चुका दुभर

  • गिटको के पीछे हनुमान कॉलोनीवासियों की समस्या की नहीं हो रही सुनवाई
  • अधिकारियों से गुजारिश कर कर हुए परेशान
  • नाले के गंदे पानी से घिर चुके कई घर

जालोर. जालोर जिला मुख्यालय स्थित गिटको होटल के पीछे हनुमान कॉलोनी के वाशिंदों को इन दिनों बड़ी समस्या से जूझना पड़ रहा है। पुराने नाले को आगे से बंद कर देने से गन्दा पानी घरों के इर्दगिर्द ही जमा हो रहा है। एक गली में तो घरों के मुहाने तक गन्दा पानी जमा हो गया है, जिस कारण बाहर निकलना भी मुश्किल हो चुका है। लोगों ने इस सम्बंध में जिले के समस्त अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों से भी निवेदन कर दिया, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई।

सोमवार को एक बार फिर से जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर समस्या समाधान की मांग की है। यह समस्या उस स्थान की है, जहां से राजस्थान राज्य जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष पुखराज पाराशर के जालोर का कार्यालय महज पांच सौ मीटर की दूरी पर है। पाराशर पिछले एक साल से प्रदेशवासियों की समस्याओं को सुलझा रहे है, लेकिन पड़ोस के वाशिंदों की समस्या हल नहीं हो पा रही है।

Advertisement
विज्ञापन
मजबूर लोगों ने गणतंत्र दिवस पर कलेक्ट्रेट के आगे किया था प्रदर्शन

इस समस्या से जूझ रहे लोगों ने नगरपरिषद, कलेक्ट्रेट, स्थानीय जनप्रतिनिधियों आदि को इस सम्बंध में अवगत भी करवा दिया था, लेकिन कहीं से सहयोग नहीं मिला। इस कारण पीड़ित लोगों ने मजबूरी में गणतंत्र दिवस के अवसर पर जिला कलेक्ट्रेट के सामने सुबह लोकतांत्रिक रूप से विरोध प्रदर्शन जताया था, उस दौरान तहसीलदार ने समझाइश कर मौका स्थल देखा और समस्या समाधान का भरोसा दिया था, लेकिन उसके बाद भी समाधान नहीं हो पाया। जिस कारण सोमवार को फिर से ज्ञापन देना पड़ा।

जानबूझकर नाला पाटने का आरोप

ज्ञापन में बताया कि वर्षो पुराने नाले के निर्माण का वर्क आर्डर नगर परिषद द्वारा ही जारी किया गया उसे ही नगर परिषद के कर्मचारियों ने 13 जनवरी 2023 को जानबूझकर मिट्टी डालकर पाठ दिया और जल निकासी का मार्ग जानबूझकर अवरुद्ध कर दिया जिससे यह समस्या बढ़ गई है। ज्ञापन में बताया कि कुछ रोज पूर्व नगर परिषद जालौर द्वारा उनके वार्ड संख्या 40 गिटको होटल के पीछे से पिंजारो के कब्रिस्तान से लगते हुए लाल भाखरी तरफ जाने वाले पुराने चालू नाले को द्वेष भाव से जेसीबी व ट्रैक्टर की मदद से मिट्टी डालकर जानबूझकर पाट दिया गया। जिससे गिटको के पीछे उनके मोहल्ले में चारों और गंदा पानी चारों सार्वजनिक रास्ते पर फैल गया तथा इससे उनके घरों में गंदा पानी घुसने लगा है ।जिससे चारों और गंदगी फैल रही है, जीना दूभर हो गया है।

Advertisement
इनका कहना है…

मुझे इस सम्बंध में पता चला है, आज ही जेसीबी कर पुराने नाले के मार्ग को व्यवस्थित कर गंदे पानी की निकासी करवा दी जा रही है।

– गोविंद टांक, सभापति, नगरपरिषद, जालोर

Advertisement

Related posts

नेता प्रतिपक्ष राठौड़ के जन्मदिन पर जालोर में किया रक्तदान

ddtnews

सांचौर शहर में एलिवेटेड हाइवे की स्वीकृति जारी, 23 जनवरी को खुलेगी निविदा

ddtnews

आमजन की पानी से संबंधित समस्याओं का मौके पर निवारण करने के लिए 15 जून से 15 जुलाई तक चलेगा अभियान

ddtnews

जीवाणा, रामसीन व भाद्राजून में खुलेगी जालोर नागरिक सहकारी बैंक को नवीन शाखाएँ, आरबीआई ने दी स्वीकृति

ddtnews

नियत समय पर कार्य नहीं करने वाली फर्मों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही करें-जिला कलक्टर

ddtnews

प्रवीण चौहान अभिभाषक संघ के निर्विरोध अध्यक्ष बने

ddtnews

Leave a Comment