DDT News
देशराजनीति

मुख्यमंत्री योगी ने करी कोरोना की स्थति की समीक्षा और दिए अधिकारीयों को निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रदेश में कोरोना की वर्तमान स्थति की समीक्षा करते हुए अफसरों को निर्देश दिया कि कोविड की बदलती परिस्थितियों पर सूक्ष्मता से नजर रखी जाए। इसके अलावा पिछले दिनों मॉक ड्रिल के दौरान जो भी कमियां मिली हैं, उनमें तत्काल सुधार किया जाए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रदेश में कोरोना की वर्तमान स्थति की समीक्षा करते हुए अफसरों को निर्देश दिया कि कोविड की बदलती परिस्थितियों पर सूक्ष्मता से नजर रखी जाए। इसके अलावा पिछले दिनों मॉक ड्रिल के दौरान जो भी कमियां मिली हैं, उनमें तत्काल सुधार किया जाए। कोविड काल के दौरान सरकार ने प्रदेश के हर जिले में आईसीयू स्थापित किये हैं, उन्हें क्रियाशील रखा जाए। साथ ही साथ हर आईसीयू में एनेस्थेटिक और अन्य स्पेशलिस्ट चिकित्सकों और टेक्नीशियन की उपलब्धता हो। आक्सीजन प्लांट पर तीन टेक्नीशियन तैनात होने चाहिए। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग या फिर चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा जितने भी अस्पताल संचालित किये जा रहे हैं उन सभी अस्पतालों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती, चिकित्सकीय उपकरणों की क्रियाशीलता, पैरामेडिकल स्टाफ की समुचित उपलब्धता की गहनता से परख कर ली जाए। इस बात का ध्यान रखा जाए की कहीं भी किसी भी प्रकार की कमी न हो। इसके अलावा अस्पतालों द्वारा अपने स्तर पर भी मॉक ड्रिल किया जाए।

Advertisement

सीएम योगी ने अफसरों को निर्देश दिया कि पिछले कोविड काल के दो-ढाई वर्ष की अवधि में स्वास्थ्य सेवाओं को सुचारु बनाए रखने के लिए बड़ी संख्या में अस्थायी तौर पर कार्मिकों की तैनाती की गई थी। कोविड काल में अपने प्राणों की परवाह न करते हुए इनके द्वारा किया गया दायित्व निर्वहन प्रेरणास्पद है और सेवाभावना सराहनीय है। इन कार्मिकों की इस सेवावधि की भविष्य में होने वाली नियुक्तियों में गणना की जाए। ऐसे कार्मिकों को वरीयता दी जाए। इस संबंध में स्पष्ट नियमावली तैयार की जाए।

उन्होंने कहा कि विभिन्न देशों में बढ़ते कोविड-19 के संक्रमण के बीच उत्तर प्रदेश की स्थिति सामान्य है। दिसंबर माह में 09 लाख 06 हजार से अधिक टेस्ट किए गए, जिसमें 103 केस की पुष्टि हुई। इस अवधि में प्रदेश की पॉजिटिविटी दर 0.01% दर्ज की गई। वर्तमान में प्रदेश में कुल 49 एक्टिव केस हैं। विगत 24 घंटों में 42 हजार से अधिक टेस्ट किए गए। यह समय सतर्क और सावधान रहने का है।

Advertisement

Related posts

राजस्थान सरकार ने ढाई हजार करोड़ का मोबाइल घोटाला किया – गजेन्द्रसिंह शेखावत

ddtnews

आज काशी पहुंचेंगे भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, सी एम योगी करेंगे अगवानी, कल दोनों करेंगे गाजीपुर में जनसभा

Admin

जिसके पास संगठन में काम करने का समय नहीं है वो स्वेच्छा से दें इस्तीफा- पाराशर

ddtnews

चार बार से जालोर के विधायक जोगेश्वर गर्ग को भाजपा ने छठी बार मैदान में उतारा

ddtnews

दिल्ली में पारा 5.5 डिग्री सेल्सियस पहुंचा, जानें मौसम और प्रदूषण का पूरा हाल

ddtnews

जालोर : सर्वसमाज ने ज्ञापन सौंपकर 7 दिन का अल्टीमेटम दिया

ddtnews

Leave a Comment