DDT News
देश

दिल्ली का मौसम: फिलहाल कोहरा घटा, लेकिन नए साल में बढ़ेगी ठंड और कोहरा

राजधानी को बुधवार को कड़ाके की ठंड और घने कोहरे से काफी राहत मिली। हालांकि, मौसम विभाग ने दिल्लीवासियों को नए साल में और उसके आसपास यात्राएं और बाहरी उत्सव मनाने की योजना के लिए सावधानी बरतने की सलाह दी है: ठंड और कोहरा 31 दिसंबर तक लौटने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि तेज़ गति की हवाओं ने कोहरे की चादर को उड़ा दिया, शुक्रवार तक अच्छी दृश्यता की स्थिति बनी रहने की संभावना है।

इसके बाद शहर के कुछ हिस्सों में ‘शीत लहर’ या ‘कोल्ड डे’ की स्थिति के साथ कोहरे की स्थिति फिर से लौट सकती है। आईएमडी के वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक आर के जेनामणि ने कहा, “हालांकि, कोहरे की सटीक तीव्रता और अवधि का अनुमान लगाना मुश्किल है।” उन्होंने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ के आने से बुधवार को हवा की गति 22 किमी प्रति घंटे तक पहुंच गई, जिससे कोहरा और बादल छंट गए, जिससे दृश्यता में सुधार हुआ और शहर को निर्बाध धूप मिल रही है।

पालम और सफदरजंग में सबसे कम दृश्यता 700 मीटर थी, जो सोमवार और मंगलवार को 50 मीटर से भी कम थी, जब 18 घंटे लंबे कोहरे की चादर – मौसम का सबसे लंबा – शहर में छाया हुआ था, जिससे उड़ानें और ट्रेन सेवाएं बाधित हुईं। जेनामणि ने कहा, “आईजीआई हवाईअड्डे पर दृश्यता बुधवार सुबह 2,500 मीटर को पार कर गई और दोपहर तक दृश्यता बढ़कर 3,500 मीटर हो गई।” हालांकि, उत्तर भारत के कुछ अन्य हिस्सों में कोहरे की स्थिति बनी रही, जिससे दिल्ली जाने वाली 14 ट्रेनें देरी से चल रही हैं।

Advertisement

आईएमडी के अनुसार, शहर के बेस स्टेशन सफदरजंग में अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 21.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि एक दिन पहले यह 17.2 डिग्री सेल्सियस था। न्यूनतम तापमान मंगलवार के 5.6 डिग्री से बढ़कर 6.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 4.5 डिग्री सेल्सियस पर, जाफरपुर में शहर का सबसे कम न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया, इसके बाद रिज पर 5.2 और आयानगर में 5.4 डिग्री दर्ज किया गया।

आईएमडी के अनुसार, गुरुवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमशः 23 और 8 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) एक दिन पहले 339 (0 से 500 के पैमाने पर) के मुकाबले 321 दर्ज किया गया था। प्रदूषण पूर्वानुमान एजेंसी का अनुमान है कि अगले कुछ दिनों तक वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ बनी रहेगी।

Advertisement

Related posts

जलवायु परिवर्तन से प्रभावित होते इंसान और जानवर

ddtnews

मासिक धर्म के दौरान स्वच्छता है जरूरी

ddtnews

गांव का हाल अब देखा नहीं जाता

ddtnews

पलायन – किसी के लिए वरदान, किसी के लिए श्राप ✍︎ नरेन्द्र सिंह बिष्ट

ddtnews

चलती वैन में लगी आग, लोगों ने कूदकर बचाई जान: माता के दर्शन करने जा रहा था जयपुर का परिवार, शॉर्ट सर्किट से लगी आग

Admin

Rishabh Pant को प्लास्टिक सर्जरी के लिए एयरलिफ्ट कर लाया जा सकता है दिल्ली : रिपोर्टस News Detail शुक्रवार तड़के सड़क हादसे में घायल स्टार भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत को प्लास्टिक सर्जरी के लिए दिल्ली एयरलिफ्ट किया जा सकता है. शुक्रवार तड़के सड़क हादसे में घायल स्टार भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत को प्लास्टिक सर्जरी के लिए दिल्ली एयरलिफ्ट किया जा सकता है. दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ के निदेशक श्याम शर्मा ने एएनआई से बात करते हुए कहा कि डीडीसीए की एक टीम स्टार भारतीय क्रिकेटर ऋषभ पंत के स्वास्थ्य की निगरानी के लिए देहरादून के मैक्स अस्पताल जा रही है. जो एक दिन पहले एक भयानक दुर्घटना का शिकार हुए थे और अगर जरूरत पड़ी तो विकेटकीपर बल्लेबाज को हवाई मार्ग से प्लास्टिक सर्जरी के लिए दिल्ली ले जाया जाएगा. बता दें कि दिल्ली से रुड़की लौटते समय पंत की कार शुक्रवार को हम्मादपुर झाल के पास रुड़की के नारसन बॉर्डर पर डिवाइडर से टकरा गई, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए. शर्मा ने कहा कि पंत को आगे की सर्जरी के लिए राष्ट्रीय राजधानी ले जाया जा सकता है (Rishabh Pant likely to be airlifted to Delhi for plastic surgery) क्योंकि कार दुर्घटना में उन्हें कई चोटें आई हैं. घटनास्थल से मिली तस्वीरों के मुताबिक, कार बुरी तरह जल गई थी और दुर्घटना के वक्त पंत ही गाड़ी चला रहे थे. कैसे हुई ऋषभ पंत के साथ ये दुर्घटना हाल ही में भारतीय टीम बांग्लादेश का दौरा खत्म करके लौटी थी. जहां पर ऋषभ पंत भी टीम का हिस्सा थे. और भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में 2-0 से जीत दर्ज की. जिसके बाद श्रीलंका के खिलाफ खेली जाने वाली आगामी टी 20 और वनडे सीरीज का पंत हिस्सा नहीं थे. उन्हें घुटने की एक इंजरी के चलते NCA में रिहैब के लिए जाना था. इसी बीच उनके पास कुछ समय था तो वे दिल्ली से अपने घर अपनी मां को नए साल पर सरप्राइज़ देने के लिए खुद ही कार चला कर जा रहे थे. शुक्रवार सुबह गाड़ी चलाते समय उनकी आंख लग गई और रुड़की के पास गाड़ी के डिवाइडर से टकरा गई. हादसे में उन्हें माथे, पीठ, और पैर में चोटें आई हैं. बीसीसीआई ने उनके लिए ऑफिशियल स्टेटमेंट जारी कर अपडेट दी है. वहीं उत्तराखंड के मुख्य मंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पंत का अच्छे से अच्छा इलाज उत्तराखंड सरकार करवाएगी.

ddtnews

Leave a Comment