DDT News
जालोरराजनीति

अध्यक्ष बनने के बाद पाराशर ने दस महीने में दसवीं बार सांसद पटेल को एक उपलब्धि बताने का किया चैलेंज, अब जवाब का इंतजार ??

  • पुखराज पाराशर के टारगेट पर सांसद देवजी पटेल
  • पावटा में पीएचसी के शिलान्यास कार्यक्रम में भी खुले मंच से पाराशर ने पटेल को एक उपलब्धि बताने का किया चैलेंज

जालोर. राजनीति में किसी सवाल की प्रतिक्रिया का दौर अक्सर चलता रहता है, लेकिन पुखराज पाराशर के सवाल की प्रतिक्रिया अभी तक जालोर सांसद देवजी पटेल पिछले दस महीने से नहीं दे पाए है। दरअसल, वरिष्ठ कांग्रेस नेता पुखराज पाराशर को राज्य सरकार ने बीते वर्ष फरवरी में राजस्थान राज्य जन अभाव अभियोग निराकरण समिति का अध्यक्ष बनाया था। अध्यक्ष बनने के बाद से ही विभिन्न कार्यक्रमों में सम्बोधन के दौरान पुखराज पाराशर ने सांसद देवजी पटेल को अपने टारगेट पर रखा है, पाराशर हर कार्यक्रम के सम्बोधन में यह कहते नहीं चूके कि पिछले तेरह साल से सांसद है, कोई एक उपलब्धि बता दो।

रविवार सुबह एक बार फिर से उन्होंने पावटा में राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के शिलान्यास कार्यक्रम में जनसमूह को सम्बोधित करते हुए सांसद देवजी पटेल को उपलब्धि बताने की चुनौती दे डाली। मंच पर मौजूद आहोर विधायक छगनसिंह राजपुरोहित को कहा कि माफ करना जिस प्रकार भाजपा जन आक्रोश यात्रा निकाल रही है, उसमें तो इनको कुछ नहीं मिल रहा है। क्योंकि बीते 4 साल में कांग्रेस सरकार ने राज्य में खूब कार्य करवाये है। पाराशर ने जालोर जिले में भी करवाए गए कार्यों के बारे में बताया। साथ ही पाराशर ने खुले मंच से चैलेंज करते हुए कहा कि बीते 13 साल से जालोर सिरोही के भाजपा से देवजी पटेल सांसद है, कोई एक कार्य की उपलब्धि बता दे, हम मान जाएंगे। केवल बात करने से कुछ नहीं होगा। उन्होंने कहा कि बीते 8 साल से तो केंद्र में भाजपा सरकार है, फिर दिक्कत किस बात की हो रही है। पाराशर ने मंच पर मौजूद आहोर विधायक छगनसिंह राजपुरोहित को भी कहा कि पीएचसी की सरकार ने पीएचसी दे दी है, दीवार तो विधायक को करवा देनी चाहिए।

Advertisement
जिले में कांग्रेस से केवल एक विधायक

जिले में कांग्रेस से केवल एक विधायक है। सांचौर से सुखराम विश्नोई, जो इस बार मंत्री भी है। शेष चारों विधानसभा क्षेत्रों में 9 सालों से भाजपा के विधायक है, लेकिन राज्य में सरकार कांग्रेस की है। लिहाजा, पुखराज पाराशर ने भी अपने सम्बोधन में विधायकों के बजाय सांसद को टारगेट पर रखना ही उचित समझा। इससे पहले चार बार जालोर, दो बार भीनमाल, एक सायला व दो बार प्रेस कॉन्फ्रेंस में अलग अलग स्थानों पर कार्यक्रमों में सम्बोधन के दौरान पाराशर सांसद पटेल से उपलब्धियां मांगते रहे है, लेकिन इसके बावजूद इस अवधि में सांसद पटेल ने एक बार भी प्रतिक्रिया नहीं दी है।

बुजुर्ग ने दे दी है 5 बीघा जमीन

पावटा में राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए एक बुजुर्ग वेनाराम मेघवाल ने पांच बीघा जमीन दान की है। पीएचसी के लिए भूमि दान करने पर वेनाराम व अमरसिंह बालोत का लोगों ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

Advertisement
उम्मीदों पर दोनों खरे नहीं उतर रहे

पुखराज पाराशर की ओर से सांसद पटेल को उनकी जिम्मेदारी के प्रति सजग करना जिलेवासियों के लिए ठीक है, लेकिन जनता की उम्मीदों पर दोनों खरे नहीं उतर पा रहे है।

  • पुखराज पाराशर के जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष बनने के बाद भी जिले के कई प्रकरण है, जिनका निस्तारण नहीं हो रहा है। आहोर से रोहिट सड़क का नजारा देखकर सहज अंदाजा लगा सकते है। इसी प्रकार कई विभागों में प्रकरण पेंडिंग पड़े है, जिनका निस्तारण नहीं हो रहा। बुजुर्गों को भटकना पड़ रहा है। सरकारी विभागों की जमीन के पट्टे तक नहीं बन पा रहे है।
  • देवजी पटेल को भी जनता ने तीसरी बार सांसद बनाकर भेजा है। मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन तक आवंटित की हुई है, लेकिन ठोस प्रयास के अभाव में कॉलेज नहीं मिल पा रही है। इसे विपक्षी मुद्दा बना रहे है।

Advertisement

Related posts

जालोर में सौ बार राम राम बोलकर नई स्विफ्ट कार लांच की

ddtnews

आकोली में एक साथ आठ घरों के ताले तोड़कर जेवरात व कीमती सामान चुराया और चाय पीकर चले गए

ddtnews

दो भाइयों के विवाद के बाद ओडवाड़ा में अतिक्रमण पर चला कानून का पंजा, पक्की दीवारें भी की ध्वस्त

ddtnews

चिरंजीवी योजना का अधिक से अधिक प्रचार कर लोगों को लाभान्वित करें – कलेक्टर जैन

ddtnews

राजदरबार में भगवान का च्यवनकल्याणक महोत्सव का मंचन

ddtnews

Leave a Comment