DDT News
जालोरराजनीति

राजस्थान बजट : अब शहर बन गया सायला, जालोर में 25 करोड़ से होगा सीवरेज का काम

जालोर. राजस्थान की भजनलाल शर्मा सरकार की वित्त मंत्री सुश्री दीया कुमारी ने बुधवार को वित्तीय वर्ष 2024-25 का पूर्ण बजट पेश किया। इस बजट में जालोर-सांचौर जिलों की पांचों विधानसभा को ठीक ठाक बजट भी मिला है। इस बार सरकार ने बड़े काम को देखे तो सायला ग्राम पंचायत को नगरपालिका बना दिया है। वहीं जालोर शहर में 25 करोड़ रुपए सीवरेज के लिए जारी किए हैं।

आइए जानते है किस विधानसभा क्षेत्र को क्या मिला…

आहोर विधानसभा क्षेत्र

Advertisement

यहां विधायक छगनसिंह राजपुरोहित लगातार दूसरी बार जीते हैं, पिछली बार कांग्रेस सरकार के दौरान भी कई कार्य हुए, लेकिन उसकी वाहवाही कांग्रेस सरकार ले गई। ऐसे इस बार सत्ताधारी विधायक होने के नाते छगनसिंह के सामने बड़ी चुनौती थी। इस कारण छगनसिंह ने प्रस्ताव भेजने की कमी नहीं रखी। इस बार छगनसिंह की मांग पर आहोर राजकीय कॉलेज को स्नातकोत्तर करवाने में सफल हुए हैं। इसी प्रकार हरजी-पचानवा, पादरली- तखतगढ़ व कवराडा नदी पर पुल बनाने के लिए सरकार ने 19 करोड़ रुपए जारी किए हैं। इसी प्रकार बिठुडा-चांदराई तक 10 किलोमीटर सड़क के लिए 5 करोड़ रुपए जारी किए हैं। भूति में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने व नोरवा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने की घोषणा हुई है।इसी प्रकार भाद्राजून के लिए सहायक अभियंता डिस्कॉम कार्यालय की घोषणा हुई है।

जालोर विधानसभा क्षेत्र

Advertisement

वर्ष 1990 से जालोर विधानसभा के लिए भाजपा की राजनीति करने वाले जोगेश्वर गर्ग इस बार 5 वीं बार जालोर से विधायक बने हैं। सरकार ने विधानसभा का मुख्य सचेतक भी बनाया है। गर्ग ने घोषणा कर रखी है कि यह उनका अंतिम राजनीतिक कार्यकाल है। इसे देखते हुए कई बड़े प्रस्ताव उन्होंने भेजे, लेकिन जालोर शहर के सीवरेज के लिए 25 करोड़, सायला को नगरपालिका का दर्जा व जालोर स्टोन कलस्टर यूनियन की ही घोषणा हुई है। इसके अलावा जालोर से झालावाड़ तक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे का कॉमन कार्य इनके हिस्से आया है।

भीनमाल विधानसभा क्षेत्र

Advertisement

पंद्रह साल बाद भाजपा ने इस विधानसभा को खोया है, यहां वर्तमान में कांग्रेस से डॉ समरजीतसिंह विधायक है, हालांकि विधानसभा के बाद हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा के सांसद प्रत्याशी लुम्बाराम चौधरी को भीनमाल विधानसभा क्षेत्र से सर्वाधिक करीब 45 हजार से अधिक मतों की लीड दिलाई, लेकिन सरकार ने भीनमालवासियों की अनदेखी की। महज भीनमाल सीएचसी को उपजिला अस्पताल में क्रमोन्नत की घोषणा की है, बाकी कई बड़े काम नजरअंदाज किये गए।

रानीवाड़ा विधानसभा क्षेत्र

Advertisement

रानीवाड़ा विधानसभा क्षेत्र दो हिस्सों में बंट गया है, आधा जालोर जिले व आधा सांचौर में शामिल हो गया है। विधायक रतन देवासी इस बार बजट में करड़ा (सांचौर) के लिए 132 केवी जीएसएस ले आए है, इससे किसानों को विद्युत लोड में होने वाली समस्या से राहत मिलने की उम्मीद है। इसके अलावा रानीवाड़ा में मिल्क प्लांट प्रोसेसिंग का कार्य भी मिला है। इसके अलावा जसवंतपुरा- चितरोड़ी वाया सुंधामाता सड़क 25 किलोमीटर के लिए साढ़े बारह करोड़ रुपए मिले है। इसी प्रकार सांचौर-मंडार-रानीवाड़ा रोड पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण के लिए करीब 5 करोड़ रुपए जारी हुए हैं। वहीं जसवंतपुरा एकल आवासीय विद्यालय के सुदृढ़ीकरण के लिए भी बजट जारी हुआ है।

सांचौर विधानसभा क्षेत्र

Advertisement

इस विधानसभा क्षेत्र में भाजपा व कांग्रेस को मात देकर निर्दलीय जीवाराम चौधरी जीत गए थे, विधायक जीवाराम ने कई प्रस्ताव भेजे, लेकिन व्यक्तिगत रूप से सांचौर विधानसभा क्षेत्र के लिए सांचौर-सिद्धेश्वर-आमली रोड के लिए साढ़े 18 करोड़ रुपए मिले है, इसके अलावा नवगठित जिला मुख्यालय होने के कारण अस्पताल को जिला अस्पताल किया है। बाकी खास सौगात नहीं मिली।

इनका कहना है…

जालोर से झालावाड़ तक ग्रीन फिल्ड एक्सप्रेस-वे सड़क की बात का तुक कोई समझ नहीं आ रहा। जिले में ग्रेनाइट,कृषि एवं अनार उद्योग की विकास की योजनाएं आनी चाहिए थी, मगर जालौर को निराशा हाथ लगी। सरकार को जालौर के लिए पूर्ववर्ती गहलोत सरकार द्वारा विभिन्न बजटों में घोषित स्वीकृत एवं शिलान्यास हुए राजकीय मेडिकल कॉलेज, जालौर दुर्ग सड़क निर्माण, जालौर बागरा फोरलेन सड़क निर्माण, वीर वीरमदेव, कान्हड़देव देव पैनोरमा, विभिन्न सड़कों एवं पेयजल योजना सहित अनेक विकास कार्य को जल्द पूरा कर जालौर की जनता को सौगात प्रदान करनी चाहिए था।

Advertisement
  • पुखराज पाराशर, पूर्व अध्यक्ष, राज्य जन अभाव अभियोग निराकरण समिति

विधानसभा क्षेत्र आहोर का विकास रुका , बजट में शिक्षा, चिकित्सा ,सड़क,बिजली, पानी व कृषि के क्षेत्र में कुछ भी नहीं मिला।

  • सवाराम पटेल, कांग्रेस नेता

राजस्थान विधानसभा बजट घोषणा पत्र में सभी जिलों में प्रदेश की कामकाजी महिलाओं के लिए प्रत्येक जिला स्तर पर महिला हास्टलों का निर्माण करवाया जायेगा। प्रदेश में अनुदानित हास्टलों में मैस भत्ता 2500से बढ़ाकर 3000 रुपये किया गया। प्रदेश के सभी नगरीय निकाय क्षेत्र के पब्लिक प्लेस में महिलाओं के लिए बायो टायलेट बनायें जायेंगे। जालोर शहर में काफी समय से बारिश के पानी से निजात दिलवाने के लिए जालोर शहर के लिए सीवरेज लाइन की घोषणा बहुत ही वरदान साबित होगी।

Advertisement
  • उर्मिला दर्जी, भाजपा महिला मोर्चा

इस बजट में आमजन अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहा है, बजट में अधिकतर घोषणाएं पिछली सरकार की घोषणा को पुनः दोहराया गया है, युवाओं व बरोजगारों विद्यार्थियों एवं किसान वर्ग का किसी प्रकार का ध्यान नहीं रखा गया, महिला वर्ग महंगाई को लेकर भी किसी प्रकार की कोई घोषणा नहीं की गई।

  • श्रवण ढाका, प्रदेश सचिव यूथ कांग्रेस

Advertisement

Related posts

 मतदान केन्द्रवार बैठेगी पॉलिंग पार्टी, अंतिम प्रशिक्षण उपरांत मतदान के लिए किया जायेगा रवाना

ddtnews

लू-तापघात से बचाव में सावधानी रखें और सुरक्षित रहें

ddtnews

भरूड़ी गांव में हुई 85 लाख रुपए एवं 700 ग्राम सोने की चोरी का पर्दाफाश, 7 आरोपियों को किया गिरफ्तार

ddtnews

जालोर एसपी हर्षवर्धन व कोतवाल अरविंद डीजीपी डिस्क से होंगे सम्मानित

ddtnews

हरदिल अजीज समाजसेवी मनीष सिंधी की स्मृति में रक्तदान शिविर

ddtnews

कोटा का मेडिकल कॉलेज कोविड फ्री: दो साल बाद मेडिकल कॉलेज में एक भी मरीज नहीं, एहतियात के तौर पर एक महीना चालू रखा जाएगा वार्ड

Admin

Leave a Comment