DDT News
जालोरसामाजिक गतिविधि

इंग्लैंड में ‘राजस्थानी जीमण’ की धूम, स्वाद, संगीत और राजस्थानी संस्कृति को किया जीवंत

  1. लंदन में आयोजित हुआ जीमण 2024 कार्यक्रम

जितेन्द्रसिंह जोधा / दिलीपसिंह बालावत, दन / जालोर. सात समंदर पार लंदन(इंग्लैंड) में राजस्थानी संस्कृति को एक बार फिर जीवंत किया राजस्थान एसोसिएशन ऑफ यूके की ओर से लंदन के सत्ताविस पाटीदार वेम्बले में 30 जून 2024 को आयोजित जीमण कार्यक्रम ने। जहां बड़ी संख्या में राजस्थानी अपनी वेशभूषा धोती कुर्ता, साफा, राजपूती पोशाकों में सज धज कर शामिल हुए।

कार्यक्रम में अतिथि के रूप में वेदांता समूह के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल शामिल हुए तथा विशेष अतिथि के रूप में लक्ष्यराजसिंह मेवाड़ रहे। दोनों अतिथियों का माला व साफा पहनाकर स्वागत किया गया। वही संत सोहम चैतन्य स्वामी, वरिष्ठ पत्रकार श्रीपाल शक्तावत, भारतीय उच्चायोग से कपिल देव, महेंद्र मधुप व अनिल पुंगलिया शामिल हुए।

Advertisement

हर साल की तरह आयोजित जीमण कार्यक्रम में पुरुष, बच्चे व महिलाएं शामिल हुई। वार्षिक उत्सव की तैयारियां काफी पहले से ही शुरू हो गई थी, जिसमें स्वयंसेवक सजावट, सांस्कृतिक कार्यक्रम, मेहमानों की सूची, खाने का मेन्यू, स्थल व्यवस्था जैसे विभिन्न आयोजनों पर बहुत पहले से मेहनत की। कार्यक्रम के संयोजक राखी गहलोत व राजीव खीचड़ थे। कार्यक्रम हमेशा की तरह इस बार भी शानदार व सफल रहा। कार्यक्रम का शुभारंभ गणपति की आरती के साथ हुआ। कार्यक्रम में आने वालों का रजिस्ट्रेशन, स्वागत व सत्कार भी किया गया।

मारवाड़ की थीम पर सुसज्जित था हॉल

जीमण कार्यक्रम को लेकर काफी उत्साह रहता है। जिस हॉल में यह कार्यक्रम हुआ, उसको पूरी तरह से मारवाड़ की थीम पर सजाया गया था। सभी पारम्परिक वेशभूषा पहने हुए थे, एक दूसरे का मारवाड़ी में अभिवादन करना, राजस्थान की सांस्कृतिक विरासत को प्रदर्शित किया, जिसमें पारम्परिक भोजन, गर्मजोशी भरा आतिथ्य आदि।

Advertisement
इन्होंने किया मेहमानों का स्वागत

कार्यक्रम में आने वाले मेहमानों का पारम्परिक तरीके से स्वागत किया गया। जिसमें विजया, कृष्णा, कविता, प्रतिभा, शिवि, शालिनी, रागिनी, स्मिता, चिंकी आदि ने तिलक लगाकर व पारम्परिक गीत गाकर स्वागत किया। वही राजस्थानी स्वादिष्ट व्यंजनों का भी लुफ्त उठाया गया। इसके बाद वीरेन्द्र सिंह, आकाश गुप्ता, हरिओम भाटी, हरेंद्रपाल सिंह जोधा, रमेश कुमार प्रजापत, उम्मेदसिंह शेरगढ़, सवाईसिंह नाथडाऊ व जसवंतसिंह ने सभी के लिए भोजन की व्यवस्था संभाली। मेहमानों ने राजस्थान के विविध स्वादों का आनंद लिया।

‘थारो म्हारो देश’ गीत ने सबका मन मोहा

जीमण उत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी हुआ जिसमें आदित्य व अनुजा ने दोपहर के 12 बजे आरती के साथ शुरू किया। युवा रुद्रांश के थारो म्हारो देश गीत ने सभी के दिलों को छू लिया। कार्यक्रम में विभिन्न प्रस्तुतियां दी गई, जिसमें आसना गुप्ता का बासुरी वादन, लविष्का का घूमर नृत्य सहित कई आयोजन हुए। वहीं प्राची शर्मा, राधिका रामदेव, तनुष्का, यादवी परमार और कृष्ण जैसे कलाकारों ने विभिन्न लोकनृत्य प्रस्तुत किए, जबकि विवेक ने राजस्थानी लोक गीत गाए।

Advertisement
ऐसे आयोजन से आने वाली पीढियां प्रेरित होगी

कार्यक्रम आयोजकों के अनुसार अपने गांव से दूर विदेश में अपनी संस्कृति से जुड़ाव का अच्छा मौका होता है, इससे वर्तमान में एक दूसरे परिवारों का मिलन तो होता ही है साथ ही आने वाली पीढी के युवाओं को भी अपनी संस्कृति से वाकिफ़ होने तथा उसको जानने का मौका मिलता है। जीमण ऐसा कार्यक्रम है जो राजस्थान की समृद्ध संस्कृति और आतिथ्य का प्रतीक है। वहीं इस वर्ष की सजावट में विशेष राजस्थानी झांकियां जिसमें पारंपरिक कुआ व झूला शामिल थे।

इस दौरान हरेन्द्रसिंह जोधा, जितेन्द्रसिंह जोधा पुनास, दिलीप पुंगलिया, नंदलाल, नेपाल सिंह पहाड़पुरा, श्यामसीह, भोमसिंह, गंगासिंह, रेवतसिंह सभी ने कार्यक्रम में अपना पूर्ण सहयोग कर कार्यक्रम को सफल बनाया।

Advertisement

Related posts

दुपहिया को टैक्सी गाड़ी ने मारी टक्कर, बाइक सवार एक युवक गम्भीर घायल

ddtnews

मंदिर दर्शनार्थ जाते असम राज्यपाल कटारिया का जालोर में स्वागत किया

ddtnews

स्थायीकरण की मांग को लेकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने दी आंदोलन की चेतावनी

ddtnews

गर्ग समाज का दीपावली स्नेह मिलन समारोह आयोजित

ddtnews

बच्चों के आहार में बड़ा घपला : कालाबाजारी के लिए आंगनबाड़ियों की बजाय कबाड़खाने पहुंचा 31 टन पोषाहार, दो गिरफ्तार

ddtnews

जालोर कलेक्टर निशान्त जैन को मिली डॉक्टरेट की उपाधि, डीयू से हिंदी में की पीएचडी

ddtnews

Leave a Comment