DDT News
जालोरराजनीति

 भागीरथ महाराज ने माता गंगा मैया को पृथ्वी पर किया अवतरित – मुख्य सचेतक गर्ग

  • ओड समाज को महाराज भगीरथ के वंश पर गर्व होना चाहिए – सांसद चौधरी

जालोर. जालोर शहर में ओड समाज के द्वारा ओडों की बस्ती में महादेव मंदिर सुन्देलाव तालाब की पाल जालोर मुख्यालय पर पहली बार भागीरथ जयंती मनाई गई ‌। यहां भागीरथ जयंती के दिन गंगा मैया को पृथ्वी पर लाने वाले महान तपस्वी महाराजा भागीरथ की जयंती अपार श्रद्धा के साथ धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान वक्ताओं ने महाराजा भगीरथ के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डालते कहा कि हमें मानव जगत के कल्याणकारी के आदर्श उनके बताए मार्ग पर चल प्रेरणा लेनी चाहिए।

भागीरथ जयंती को लेकर महादेव जी मंदिर के प्रांगण में सजे पंडाल में आयोजित कार्यक्रम में सवेरे 10 बजे किया गया तथा महाराजा भागीरथ की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर माल्यार्पण और पुष्प अर्पित किया गया। सवेरे सुबह 10 बजे आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आए राजस्थान विधानसभा मुख्य सचेतक व विधायक जोगेश्वर गर्ग व वर्तमान जालोर – सिरोही, सांचौर सांसद लुंबाराम चौधरी उपस्थित थे। वहीं विशिष्ठ अतिथि के नाते भाजपा नगर अध्यक्ष एडवोकेट सुरेश सोलंकी, नगर परिषद उपसभापति अम्बालाल व्यास,ओबीसी मोर्चा जिलाउपाध्यक्ष दिलीप सोलंकी,रतन सुथार,राजेन्द्र टाक,पार्षद दिनेश बारोट , एडवोकेट भुरसिंह देवकी , एडवोकेट ओमप्रकाश, एडवोकेट संजय बोराणा, मौजूद रहे।

Advertisement
विज्ञापन

मुख्य सचेतक व जालोर विधायक गर्ग ने कहा कि महाराजा भागीरथ ने अपने पुरखों की आत्मा शांति व मानवता के कल्याण के लिए कड़ी तपस्या करके माता गंगा को पृथ्वी पर अवतरित किया। जालौर – सिरोही सांसद लुंबाराम चौधरी ने कहा कि आज जो महापुरुषों की भागीरथ जयंती मना रहे हैं ‌। यह अपने आप में एक बहुत ही बड़ी जयंती है। सांसद ने समाज के अध्यक्ष और पूरी टीम का धन्यवाद व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि ओड समाज को महाराज भगीरथ के वंश पर गर्व होना चाहिए। उन्होंने समाज के लोगों को उनके आदर्शों पर चलने के लिए भी प्रेरित किया। ओड समाज द्वारा बाबा भगीरथ महाराज उन्होंने कठोर तपस्या करते हुए शरीर का त्याग किया। यहां गर्व की बात है। कड़ी तपस्या करते महाराज भागीरथ के द्वारा इस धरती पर गंगा लाई गई। अथवा ओड समाज धरती पर गंगा लाने वाले महर्षि भगीरथ महाराज को अपना पूर्वज माना जाता है। महर्षि भागीरथ मानव माता का कल्याण करने वाले महापुरुष थे जिनके प्रयास से गंगा माता धरती पर अवतरित हुई। यदि भागीरथ महाराज नहीं होते तो गंगा माता स्वर्ग से उतरकर नहीं आती जो आज भी मोक्षदायिनी कहलाती हैं। महर्षि भागीरथ की जयंती पर सभी को समाज के कल्याण और विकास में अपनी पूर्ण भागीदारी देने का प्रण लेना चाहिए।

कार्यक्रम को ओड समाज संस्था संगठन के जिलाध्यक्ष अर्जुन राठौड़ ने बताया कि महाराज भागीरथ पर प्रकाश डालते कहा कि मानव कल्याण के लिए उन्होंने कड़ी तपस्या कर गंगा को धरती पर अवतरित किया मानव उनका ऋणी रहेगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता उगमसिंह राठौड़ ओड ने की। संचालन मुकेश कुमार ओड ने किया। इस मौके पर ओड युवा अध्यक्ष रूप सिंह, श्रवण ओड, मुकेश राठौड़ ओड, जसवंत ओड , महेंद्र ओड, दूर्ग ओड, अनिल राठोड़ ओड, शैतान सिंह ओड , कपिल राठौड़ ओड, राधेश्याम ओड , विनोद राठौर ओड , कालु ओड समेत समाजबन्धु मौजूद थे।

Advertisement

 

Advertisement

Related posts

विद्युत उत्पादन में कमी के कारण गांवों में 6 घण्टे बिजली कटौती – डिस्कॉम

ddtnews

बगावत बड़ी या समर्पण … जानिए, सांचौर की राजनीति पर क्या बोले समर्पण करने वाले नेता

ddtnews

सेवा पखवाड़ा के तहत युवा मोर्चा ने आहोर में किया रक्तदान

ddtnews

लेटा क्रॉसिंग ओवरब्रिज : डायवर्जन के लिए रोड तैयार, अब गर्ल्स कॉलेज की टूटेगी दीवार

ddtnews

भारत में बेहतर लोकतंत्र होने के बावजूद इंसानियत और दायित्व बोध क्यों नहीं पनप रहा – महावीर सिंह

ddtnews

सिरे मंदिर धाम पर होगा गंगानाथ महाराज का चातुर्मास, 9 जुलाई को निकलेगी भव्य शोभायात्रा

ddtnews

Leave a Comment