DDT News
जालोरसामाजिक गतिविधि

जगन्नाथ महादेव मंदिर में शिवरात्रि का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया

जालोर. नारणावास के ऐसराणा पर्वत पर स्थित जागनाथ महादेव मंदिर में शिवरात्रि का पर्व हर्षोल्लास से मनाया गया। शिवरात्रि का पर्व जागनाथ महादेव मठ के महंत महेंद्र भारती के सानिध्य में मनाया गया। शिवरात्रि पर फूल मालाओं एवं रंग बिरंगी रोशनी से मन्दिर को सजाया गया। मन्दिर की सजावट से मनोहारी दृश्य नजर आने लगा। जागनाथ महादेव मंदिर पहाड़ एवं सुनहरे रेत के धोरों के बीच आया हुआ है। धोरों पर उगी विविध प्रकार की झाड़ियां श्रद्धालुओं का मन मोह लेती हैं। यहां आने के बाद यहां से वापस जाने का मन ही नही होता। रात्रि में जागनाथ महादेव मंदिर में चार विशेष आरती कर पूजा अर्चना की गई । श्रद्धालुओं ने जागनाथ महादेव के जयकारे लगाये जिससे जागनाथ महादेव मन्दिर का वातावरण भक्तिमय हो गया। श्रद्धालुओं ने जागनाथ महादेव को प्रसादी चढ़ा कर खुशहाल जीवन की मनोकामना की ।

विज्ञापन

इस अवसर पर महंत महेन्द्र भारती के कहा कि शिवरात्रि को जागनाथ महादेव के दर्शन करने का विशेष महत्व हैं । उन्होंने श्रद्धालुओं से भलाई का मार्ग अपनाने की बात कही ।नारणावास के रूप सिंह राठौड़ ने कहा कि जागनाथ महादेव के प्रति श्रद्धालुओं में भारी आस्था हैं इसी का परिणाम हैं कि राजस्थान सहित गुजरात के भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु जागनाथ महादेव के दर्शन करने आते हैं। उन्होंने कहा कि जागनाथ महादेव को दुःख के समय सच्चे मन से याद करने पर वे भक्तों के दुखों को दूर कर देते हैं। विष्णु भारती महाराज ने कहा कि भगवान शिव को भोले नाथ भी कहते है। भगवान शिव की पूजा अर्चना करने से खुशहाल जीवन प्रदान करते हैं। इस अवसर पर महंत महेंद्र भारती , रूप सिंह नारणावास , विष्णु भारती , कैसा राम राजपुरोहित , जोग सिंह नारणावास ,भगवत सिंह , उम्मेद सिंह डुडसी, खुशाल सिंह धवला , कूपा राम देवासी , विक्रम सिंह नारणावास , हीर सिंह , मांगीलाल , हपा राम माली ,भरत राजपुरोहित , मनोहर सिंह तेलवाड़ा , मोहन पूरी , मौजूद थे।

Advertisement
भक्ति संध्या आयोजित 

जागनाथ महादेव मंदिर में भक्ति संध्या आयोजित हुई जिसमें बागरा के प्रहलाद रावल एन्ड पार्टी ने एक से बढ़कर एक धार्मिक भजनों की प्रस्तुति दी। जिसमें प्रहलाद रावल का सहयोग गणेशा राम देवासी दांतवाड़ा , जेता राम देवासी, करण ख्वास आदि ने किया। जिससे यहां का वातावरण भक्तिमय हो गया। श्रद्धालु भी अलसुबह तक पंडाल में बैठ कर भजन सुनते रहे। भजन संध्या में महंत महेंद्र भारती , रूप सिंह राठौड़ नारणावास , गुरु भाई विष्णु भारती , भगवत सिंह नारणावास सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे।

Advertisement

Related posts

शारीरिक रूप से अक्षम को शैक्षिक रूप से सक्षम बनाना ज़रूरी है ✍️ रेहाना कौसर

ddtnews

आप सब मेरा परिवार हो, सुख-दुःख की हर घड़ी में आप हमेशा मुझे अपने साथ पाएंगे – लुम्बाराम चौधरी

ddtnews

नारणावास-देवदा डामरीकरण सड़क मार्ग का कार्य आरम्भ, सफर होगा सुगम

ddtnews

नियमों में प्रावधान होगा तो आश्रम की जमीन अलॉटमेंट की जाएगी – राजस्व मंत्री जाट

ddtnews

रामसीन विद्यालय में विद्यार्थियों को पोशाक वितरित किए

ddtnews

आहोर में बाजार से ब्रिज निकालने का व्यापारियों ने जताया विरोध, बोले – यातायात दबाव कम करने के लिए बायपास ही उचित व्यवस्था

ddtnews

Leave a Comment