DDT News
जालोरभीनमालराजनीति

भीनमाल में भाजपा टिकट में उलझी तो राठौड़ के नाम पर एकजुट होने लगी कांग्रेस

  • भीनमाल में काँग्रेस के राजस्थान सह प्रभारी वीरेंद्रसिंह राठौड़ ने की रायशुमारी, पूर्व विधायक के समर्थन सभी होने लगे एक सहमत

जालोर. विधानसभा चुनाव को लेकर दोनों प्रमुख राष्ट्रीय दलों की ओर से हर दिन टिकट को लेकर मंथन किया जा रहा है। भाजपा जहां राजधानी में गणित तैयार कर रही है, वहीं काँग्रेस के बाहर से आ रहे नेता यहां फीडबैक एकत्रित करने में जुटे हैं। शनिवार को राजस्थान कांग्रेस के सह प्रभारी वीरेन्द्रसिंह राठौड़ ने भीनमाल होटल कृष्णा पैलेस में कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों, दावेदारों, पदाधिकारियों से रायशुमारी की। यहां कांग्रेस सभी ने एकजुटता दिखाई।

विज्ञापन

हालांकि यहां से पूर्व में पर्यवेक्षकों के समक्ष कई जनों ने दावेदारी जताई थी, लेकिन शनिवार को सभी नेता पूर्व विधायक डॉ समरजीतसिंह राठौड़ के पक्ष में सहमत दिखे। यहां दावेदारी जताने वाले उमसिंह, श्रवणसिंह, हीरालाल, श्रवण ढाका समेत दावेदारों ने भी सह प्रभारी को भरोसा दिलाया कि इस बार जिसको भी पार्टी मौका देगी, उन्हें एकजुट होकर जिताएंगे।

Advertisement
कांग्रेस होने लगी एकजुट

पिछले दिनों भाजपा की परिवर्तन संकल्प यात्रा के दौरान भाजपा में दिखे बिखराव के बाद अब कांग्रेस एकजुट होने लगी है। इसी के चलते कांग्रेस पार्टी भी सबसे मजबूत व पुराने कदावर नेता डॉ समरजीतसिंह पर एक बार फिर दांव लगाने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सरकार रिपीट करने के संकल्प को पूरा करने को लेकर अन्य दावेदार भी डॉ समरजीतसिंह के पक्ष में मौन स्वीकृति देते दिखाई दे रहे है। लिहाजा इसका मजबूत सन्देश कांग्रेस कार्यकर्ताओं का भी हौसला बढ़ा रहा है।

पंद्रह साल से भाजपा काबिज

भीनमाल विधानसभा क्षेत्र में पिछले 15 साल से भाजपा काबिज है। वर्ष 2008 से भाजपा के पूराराम चौधरी विधायक है। इसमें दस साल का कार्यकाल कांग्रेस सरकार का रहा है, लेकिन विधायक भाजपा का रहा। विधायक की पैरवी मजबूत नहीं होने के कारण विकास कार्य में भीनमाल क्षेत्र काफी पीछे रह गया है। सबसे बड़ी कमी तो यह है कि जिले में नर्मदा के डीआर, इआर व एफआर प्रोजेक्ट के तहत कार्य हुए हैं। लेकिन भीनमाल में इआर के तहत होने वाला कार्य बहुत धीमी गति से हुआ है। भीनमाल शहर को अभी तक मीठा पानी नहीं मिल पाया। इस कारण इस बार मौजूदा विधायक के प्रति लोगों में नाराजगी का भी माहौल है।

Advertisement
विज्ञापन
एकजुटता के पीछे मजबूत कारण यह भी

भीनमाल में इस बार कांग्रेस की एकजुटता के पीछे महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि अगर कांग्रेस सरकार बनती है तो उनके भी काम आसान हो सकेंगे। इस कारण यहां दावेदारी तो कइयों ने जताई, लेकिन शनिवार को सह प्रभारी वीरेंद्र सिंह राठौड़ के समक्ष फीडबैक देने के लिए डॉ समरजीतसिंह के पक्ष में बड़ी संख्या में समर्थक पहुंचे। इसे देखते हुए दूसरे दावेदारों ने भी एक सहमति दिखाई।

Advertisement

Related posts

फसलों में सफ़ेद लट का प्रकोप होने से बचाव के लिए करें आवश्यक प्रबंधन

ddtnews

रोटरी क्लब ने स्थापना दिवस पर केक काटकर विश्व शांति की कामना की

ddtnews

Rajasthan Weather : अप्रैल से फिर बदलेगा मौसम, दिखेगा पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव, बारिश के संकेत, तापमान में परिवर्तन, पढ़े IMD पूर्वानुमान

ddtnews

लोकतंत्र की मजबूती के लिए राजनीति में महिलाओं की भागीदारी आवश्यक – शरीफा रहमान

ddtnews

कार्यशाला में किसानों को दी भंडारण संबंधी जानकारी दी

ddtnews

जोश और जुनून के साथ भीनमाल से शुरू हुई कांग्रेस की गौरव यात्रा

ddtnews

Leave a Comment