DDT News
जालोरराजनीति

माही के पानी को लाने के लिए 11 सिंतबर से 400 गांवों में निकलेगी जलक्रांति यात्रा

  • 20 दिनों तक सिरोही, जालौर,बसांचौर, बालोतरा व बाड़मेर जिले में जाएगी यात्रा

जालोर. राजस्थान किसान संघर्ष समिति ने श्री करणी चारण छात्रावास में रविवार को कार्यकर्ता सम्मेलन व प्रेसवार्ता की। कइस सम्मेलन में माही बेसिन के जल को पेयजल व सिंचाई के लिए उपलब्ध करवाने के लिए चर्चाएं हुई।

प्रेस वार्ता में राजस्थान किसान संघर्ष समिति के संयोजक विक्रम सिंह पूनासा ने बताया कि आगामी 11 सितम्बर से जालोर, सिरोही, बालोतरा व बाड़मेर जिलों में माही जलक्रांति यात्रा का आगाज कर रहे है, जो इन जिलों के हर तहसील व गांवों में जाएगी। पूनासा ने बताया कि हमारा संगठन लम्बे समय से इसको लेकर संघर्ष कर रहा है और उच्च न्यायालय से लेकर केन्द्र व राज्य सरकार तक इस मुद्दे को लेकर लंबी लड़ाई लड़ी है। अब चुनावी समय में हम गांवों में यात्रा लेकर जाएंगे व जनता को जागरुक करके बताएंगे कि वोट उसी को दो जो माही का पानी लाने की बात करे वरना नेताओं को गांवों में घुसने नहीं दिया जाएगा।

Advertisement

समिति के सह सहसंयोजक केशरसिंह राठौड़ ने बताया कि हमारी जमीन,हमारा कडाना बांध फिर भी हमारे हक के पानी पर अनाधिकृत कब्जा गुजरात राज्य ने कर रखा है। इस हक के पानी को लेकर गांव से लेकर ढाणी तक जाएंगे व जनता से हुंकार करवाएंगे कि चुनावों में वोट मांगने से पहले माही के पानी की व्यवस्था लेकर आओ। क्षेत्र की जनता इस यात्रा के माध्यम से राजनेताओं की आंखे खोलेगी व पानी लाने के आंदोलन के लिए इनको मजबूर करेगी। इस माही के पानी के लिए बलिदान भी देना पड़ा तो पीछे नही हटेंगे। बेशकीमती पानी ओवरफ्लो होकर खम्भात की खाड़ी में जा रहा है व गुजरात ने पानी पर डाका डाल रखा है।

विज्ञापन

अध्यक्ष बद्रीदान नरपुरा ने कहा कि हमने 122 बार आर.टी.आई. लगाकर कई मोर्चो पर माही के पानी को लेकर लड़ाई लड़ी है। राजनेताओं से लेकर उच्च न्यायालय के दरवाजे खटखटाये है और अब जनता के दरवाजे तक हमारा संगठन जाएगा। इस यात्रा के जरिए चारों जिलों में राजनीतिक चेतना लाएंगे।

Advertisement
विज्ञापन

युवा मोर्चा के अध्यक्ष जयन्त मूढ ने बताया कि लंबे समय से चल रहे माही बेसिन जल के आंदोलन को अब गांव व ढाणी तक पहुंचाने के लिए माही जलक्रांति यात्रा का की जाएगी, जो 20 दिन तक सैकड़ों गाड़ियों से 1100 किलोमीटर से अधिक चलेगी, जिसमें 300 से ज्यादा जनसभाएं की जाएगी। इस यात्रा के बाद स्थानीय नेताओं को इस मुद्दे पर बोलने को विवश कर देंगे व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक हक की बात पहुचायेंगे। यह यात्रा इन चारों जिलों की एतिहासिक यात्रा होगी । इस यात्रा की तैयारी में हमने 02 प्रचार रथ,प्रचार सामग्री व गाने बनाए है जो गांव गांव जाकर चेतना करने का काम करेंगे। प्रेस वार्ता में पोस्टर का विमोचन किया और बड़ी संख्या में मौजूद किसानों ने माही प्रचार रथ को गांवों के लिए रवाना किया।

विज्ञापन

इस सम्मेलन में सचिव घिमर सिंह, उपाध्यक्ष हुकम सिंह धानसा, जिला परिषद सदस्य शिवनाथ सिंह राजपुरोहित, प्रेम सिंह पादरु, जिला प्रभारी बाड़मेर बाबू लाल परिहार, शैतान सिंह, बलवंत सिंह दहिया सायला, मोडाराम देवासी, पांचाराम चौधरी, शंभुदान आशिया, करण सिंह थांवला, मानाराम राजपुरोहित बागोड़ा, तगाराम सैन समदड़ी, अर्जुन सिंह सुराणा, रुपसिंह विशाला, जेठूदान सरवड़ी, राण सिंह खण्डप सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

Advertisement

Related posts

सुकड़ी नदी में पानी से घिरे एक व्यक्ति ने बबूल पर चढ़कर और 5 ने पिलर पकड़ कर जान बचाई

ddtnews

शिक्षकों को सम्मान समाज में सर्वोपरि- जिला कलक्टर

ddtnews

जिला कलक्टर ने जालोर में जनसुनवाई कर आमजन की समस्याओं का किया निस्तारण

ddtnews

केशवना में दशहरा पर शस्त्र पूजन का कार्यक्रम किया

ddtnews

जनता क्लिनिक में सिलिकोसिस शिविर का आयोजन, 100 खदान श्रमिकों के स्वास्थ्य की हुई जांच

ddtnews

जिल जल एवं स्वच्छता मिशन की रिव्यू बैठक सम्पन्न

ddtnews

Leave a Comment