DDT News
जालोरराजनीति

GOOD NEWS : इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत महिलाओं व बेटियों को मिलेंगे स्मार्ट फोन एवं डाटा सिम

जालोर. इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के माध्यम से जिले में महिलाओं को स्मार्ट फोन एवं डाटा सिम वितरण करने के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।

अतिरिक्त जिला कलक्टर राजेन्द्र प्रसाद अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री बजट घोषणा के अनुसरण में चिरंजीवी परिवारों की महिला मुखियाओं को स्मार्ट फोन मय इन्टरनेट कनेक्टिविटी उपलब्ध करवाने के लिए इन्दिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना आरम्भ की गई है। इसके लिए जिले में 10 अगस्त से शिविरों का आयोजन होगा।

Advertisement

प्रथम चरण में राज्य की लगभग 40 लाख चिरंजीवी परिवारों की महिला मुखिया को एक मुश्त डीबीटी के माध्यम से योजना का लाभ दिया जाएगा। जालोर जिले में लगभग 82000 महिला मुखिया को लाभ दिया जाएगा।’ योजना के तहत लाभार्थियों को दिए जाने वाले स्मार्टफोन की सहायता से दूर-दराज के क्षेत्रों में पढ़ रही छात्राओं की सुरक्षा के साथ-साथ सरकार द्वारा वंचित और कमजोर वर्ग के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के लाभ की जानकारी प्राप्त हो सकेगी। साथ ही राज्य सरकार द्वारा छात्राओं एवं विधवा एकल नारी के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं एवं रोजगार की जानकारी मिल सकेगी। यह योजना छात्राओं, विधवा एवं एकल नारी को सशक्त करने की एक अनूठी पहल है। इस योजना के द्वारा माताओं, बहन-बेटियों को डिजिटल साक्षर किया जाएगा। इससे वे सरकार की अन्य योजनाओं का लाभ ले सकेंगे। लाभार्थी को स्मार्ट फोन मय सिम, डाटा कन्नेक्टविटी जिला एवं ब्लॉक स्तर के शिविरों में उपलब्ध करवाई जाएगी।

विज्ञापन
प्रथम चरण में इन्हें मिलेगा योजना का लाभ

इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत प्रथम चरण में सरकारी विद्यालयों में 9वीं से 12वीं कक्षा में अध्यनरत छात्राएं, सरकारी उच्च शिक्षण संस्थाओं में अध्ययनरत छात्राओं, विधवा एवं एकल नारी पेंशन प्राप्त कर रही महिलाओं, वर्ष 2022-23 के दौरान महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी के तहत 100 दिवस कार्य तथा इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गारण्टी योजना के तहत 50 दिवस कार्य पूर्ण करने वाले परिवार की महिला मुखिया को शामिल किया गया है। सूची में किसी पात्र लाभार्थी का नाम नहीं होने की स्थिति में राजस्थान सम्पर्क हेल्पलाइन नं. 181 पर रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है।

Advertisement
योजना के लाभ के लिए यह दस्तावेज होंगे आवश्यक

इंदिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना के तहत लाभार्थियों को शिविर में निर्धारित दस्तावेजों की मूल प्रति साथ लानी होगी। निर्धारित दस्तावेजों में विद्यालय, महाविद्यालय, पॉलिटिक्नक, आईटीआई की छात्राओं के लिए 18 वर्ष से कम आयु होने पर परिवार के चिरंजीवी परिवार के मुखिया का आधार कार्ड एवं स्वयं चिरंजीवी परिवार मुखिया का उपस्थित होना अनिवार्य है। 9वीं से 12 वीं में अध्यनरत छात्राओं के विद्यालय का एवं महाविद्यालय, आईटीआई, पॉलिटेक्निक कॉलेज में अध्ययनरत छात्राओं के आईडी कार्ड एवं एनरोलमेंट नम्बर का कार्ड, पेन कार्ड (यदि हो तो) तथा लाभार्थी का आधार कार्ड साथ लाना होगा। एकल विधवा पेंशन प्राप्त कर रही महिला के पेंशन का पीपीओ नम्बर, पेन कार्ड (यदि हो तो) तथा लाभार्थी का आधार कार्ड शिविर में दिखाना होगा। वर्ष 2022-23 के दौरान महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी के तहत 100 कार्य दिवस तथा इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गारण्टी योजना के तहत 50 कार्य दिवस पूर्ण करने वाले परिवार की महिला मुखिया के आवश्यक दस्तावेज जन आधार कार्ड, लाभार्थी का आधार कार्ड एवं उपलब्ध होने पर पेन कार्ड है। लाभार्थी के 18 वर्ष से कम आयु होने पर केवाईसी सिम के लिए चिरंजीवी परिवार की मुखिया के नाम पर होगी। मोबाईल फोन भी चिरंजीवी परिवार के मुखिया के नाम पर होगा। इसके लिए चिरंजीवी परिवार के मुखिया को ईकेवाईसी के लिए आधार व मोबाईल फोन के लिए जनाधार लाना होगा।

इन्दिरा गांधी स्मार्ट फोन योजना शिविर की सम्पूर्ण जानकारी टोल फ्री नम्बर (181) पर भी उपलब्ध होगी। लाभार्थी अपनी पात्रता की जांच जनसूचना पोर्टल के माध्यम से ई-मित्र प्लस मशीन पर भी कर सकते है। सभी लाभार्थियों को स्मार्ट फोन मय कनेक्टिविटी के क्रय के लिए ई-वॉलेट अथवा ई-वाउचर डीबीटी के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा राशि स्थानान्तरण की जाएगी। स्मार्ट फोन मय कनेक्टीविटी के क्रय के लिए लाभार्थी परिवार का जनाधार में पंजीकृत महिला मुखिया के मोबाईल नम्बर को अपने साथ लाना अनिवार्य है। ’इसके साथ पैन कार्ड उपलब्ध है, तो वह भी अपने साथ लाना होगा।

Advertisement
विज्ञापन
विज्ञापन
शिविर में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

शिविर स्थल पर हेल्प डेस्क टीम द्वारा लाभार्थी के जन आधार कार्ड, जनाधार में रजिस्टर्ड मोबाईल नम्बर की पहचान, आधार कार्ड, फोटो एवं अन्य के लिए मान्य दस्तावेजों की पहचान की जाएगी। लाभार्थी के फोन में जन आधार एप डाउनलोड कर विभिन्न जानकारी दी जाएगी। रजिस्ट्रेशन जोन में हेल्पडेस्क पर लाभार्थी की पात्रता की पहचान कर जन आधार, ई-वालेट, केवाईसी फार्म , टीएसपी फार्म एवं फार्म-60 उपलब्ध कराए जाएंगे। सिम जोन में लाभार्थी द्वारा ई-केवाईसी के पश्चात अपनी पसन्द की सिम एवं इन्टरनेट डाटा प्लान दिया जाएगा।

शिविर के मोबाईल जोन से लाभार्थी अधिकृत मोबाईल डीलरों से अपनी पसन्द का मोबाईल फोन क्रय कर सकेंगे। लाभार्थी किसी भी डीलर से कोई भी फोन खरीदने के लिए स्वतंत्र है। लाभार्थी द्वारा अपनी पसन्द की सिम व इन्टरनेट डाटा प्लान के बाद उसकी ई-केवाईसी होगी। ई-केवाईसी के पश्चात प्रत्येक लाभार्थी का शिविर में लैपटाप पर आईजीएसवाय एपलीकेशन में उसका नया मोबाईल नम्बर एन्टर किया जाएगा। लाभार्थी को मोबाईल एवं डाटा सिम के लिए डीबीटी के माध्यम से भुगतान किया जाएगा। शिविरों में लगाए गए डिजिटल हैण्ड होल्डिंग जोन में लाभार्थियों के लिए डिजिटल साक्षरता के लिए डिजिटल एक्टिविटी, प्रश्नोतर प्रसंग एवं नुक्कड नाटक का आयोजन किया जाएगा।

Advertisement
विज्ञापन
विज्ञापन

नुक्कड नाटक द्वारा राज्य सरकार की जन हितोपकारी योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी। प्रोत्साहन के लिए विजेताओं के टोकन पुरस्कार भी दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इन शिविरों का आयोजन 10 अगस्त से किया जाएगा। जिला मुख्यालय पर 2 शिविरों तथा प्रत्येक पंचायत समिति पर एक-एक शिविर के आयोजन होंगे।

Advertisement

Related posts

बीस सूत्रीय कार्यक्रम की जिला स्तरीय समिति गठित

ddtnews

जालोर एमसीएच अस्पताल में हुआ विश्राम घर का लोकार्पण

ddtnews

बत्तीसा बांध का काम कांग्रेस सरकार ने अटकाया, मैं इसे पूरा करवाऊंगा – लुम्बाराम चौधरी

ddtnews

शोभायात्रा निकाल हर्षोल्लास से मनाई विश्वकर्मा जयंती, प्रतिभा सम्मान समारोह हुआ आयोजित

ddtnews

गोवा के मुख्यमंत्री ने आगामी सभी राज्यों में भाजपा सरकार बनने का दावा किया

ddtnews

भाजपा ने 14 दिन के धरने को बीस दिन के अल्टीमेटम के साथ किया पूरा, जिलाध्यक्ष ने की टिकैत की नकल

ddtnews

Leave a Comment