DDT News
जालोरसामाजिक गतिविधि

जरूरतमंद बालकों के लिए राजसुगम संस्था चलाएगी शिक्षा में सहयोग अभियान

  • राजसुगम सेवा संस्थान की पहल, आमजन के सहयोग से जरूरतमंद बालकों को उपलब्ध करवाई जाएगी पाठ्य सामग्री

जालोर. जरूरतमंद विद्यार्थियों की शिक्षा अनवरत रूप से जारी रखने में संबल देने के लिए एक स्वयं सेवी संस्था राजसुगम सेवा संस्थान की ओर से शिक्षा में सहयोग अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान के तहत स्वयंसेवी संस्थान की ओर से आमजन के सहयोग से जरूरतमंद विद्यार्थियों को नोटबुक स्लेट पेन आदि वितरित की जाएगी। अभियान के प्रथम चरण में जालोर के आस पास के गांवों में जरूरतमंद विद्यार्थियों को पाठ्य सामग्री वितरित की जाएगी। राजसुगम संस्थान के पदाधिकारियों का कहना है कि कई बालक बालिकाएं ऐसे है जिनकी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण पढाई के दौरान नोटबुक, पेन, कपड़े आदि की व्यवस्था करने में परेशानी झेलनी पड़ती है। ऐसे बालक बालिकाओं के लिए संस्थान की ओर से सामाजिक सरोकार के तहत आमजन विभिन्न सामाजिक संगठनों के सहयोग से शिक्षा में सहयोग अभियान चलाया जाएगा, जिसके तहत आमजन से प्राप्त होने वाली नोटबुक पेन पेंसिल स्कूल बैग कपड़े आदि संकलित किये जाकर जरूरतमंद विद्यार्थियों को उपलब्ध करवाई जाएगी उपलब्धता के आधार पर विभिन्न स्कूलों में जाकर भी बालक बालिकाओं को पाठ्य सामग्री वितरित की जाएगी।जिससे जरूरतमंद बालकों को उनको कुछ राहत मिलेगी। संस्थान के उपाध्यक्ष जितेन्द्र कुमार का कहना है कि ऐसे सभी जरूरतमंदों तक पहुंच पाना संभव नहीं है, लेकिन जितने बालकों तक पाठ्य सामग्री पहुंचा सकेंगे उतने बालकों को तो थोड़ी राहत मिलेगी। उनका मानना है कि संस्थान की ओर से चलाए जा रहे इस अभियान का उद्देश्य केवल आमजन से पाठ्य सामग्री एकत्र करना और जरूरतमंदों तक पहुंचाना भर ही नहीं है बल्कि आमजन व सक्षम लोगों में जरूरतमंद लोगों की सहायता करने की भावना भी विकसित करना है अभियान से प्रेरित होकर कई लोग स्वयं के स्तर पर जरूरतमंद विद्यार्थियों की सहायता करने को आगे आएंगे। जरूरतमंद विद्यार्थियों हेतु पाठ्य सामग्री जमा करवाने हेतु अभियान के कॉर्डिनेटर अशोक कुमार के दूरभाष नंबर 9929392696 पर संपर्क किया जा सकता है।

विज्ञापन

संस्थान की सचिव रविना कुमारी का सक्षम लोगों से आह्वान है कि वे जरूरतमंद विद्यार्थियों को आगे बढाने के लिए उन्हें सहयोग कर बेहतर भविष्य बनाने में अपनी भूमिका निभाए। हालांकि कई लोग ऐसे जरूरतमंद बालक बालिकाओं को पाठ्य सामग्री उपलब्ध करवाकर पुण्य का कार्य कर रहे है लेकिन सक्षम लोगों को और भी आगे आकर जरूरतमंद विद्यार्थियों को पाठ्य सामग्री वितरित की जाएगी तो जरूरतमंद विद्यार्थी अपन बेहतर भविष्य बना सकेंगे। शिक्षा के लिए दान देना पुण्य का कार्य है इसलिए सक्षम लोगों से आह्वान है कि जरूरतमंदों की सहायता के लिए आगे आकर उनका सहयोग करें।

Advertisement
विज्ञापन

Related posts

जालोर LIC के बाहर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, केंद्र सरकार के विरुद्ध की नारेबाजी

ddtnews

कोटा में कोचिंग कर रहे झाब के छात्र ने दे दी अपनी जान

ddtnews

सोमवार से ब्लॉक स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों का होगा शुभारम्भ

ddtnews

भीनमाल पुलिस ने 9 किलो 400 ग्राम अवैध अफीम बरामद की, तीन आरोपी गिरफ्तार

ddtnews

कोटा में यूडी टैक्स पर विवाद: मेयर बोले- निजी फर्म का ठेका हो निरस्त, फर्म कर रही है गलत बिलिंग, सरकार तक पहुंचाई जाएगी बात

Admin

हीराराम देवासी भारतीय किसान कांग्रेस ब्रिगेड कमेटी के ग्रामीण जिलाध्यक्ष नियुक्त

ddtnews

Leave a Comment