DDT News
जालोरबिपरजोय तूफानराजनीति

मुख्यमंत्री गहलोत पहुँचे जालोर, बिपरजोय तूफान से हुए नुकसान से प्रभावित लोगों की समस्या सुनी

  • हेलीपैड पर सीएम ने सुनी समस्या
  • बारिश में कइयों के कच्चे मकान गिरे, अब प्रशासन से राहत की उम्मीद

जालोर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मंगलवार शाम जालोर पहुँचे। सीएम गहलोत निर्धारित समय से एक घण्टा पहले 4 बजे जालोर पहुंच गए। हेलीपेड पर काँग्रेस नेताओं ने सीएम की अगवानी की। वहीं मुख्यमंत्री ने हेलीपेड पर आए कुछ लोगों की समस्या को सुना और उसके निस्तारण के लिए कलेक्टर निशांत जैन को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री गहलोत जिले में बिपरजोय तूफान व बारिश से हुए नुकसान को लेकर जायजा ले रहे हैं। सीएम ने रात्रि विश्राम जालोर में किया।

हेलीपेड पर आए लोगों ने सीएम से कहा कि हम बारिश के बाद आए पानी से पांच दिन से फंसे हुए और पांच दिन से खाना भी नसीब नहीं हुआ है। वहीं कानिवाड़ा से पहुँचे लोगों ने कहा कि बारिश से मकान ध्वस्त हो गया है अब स्कूल में बैठकर रात गुजार रहे हैं, वही देबावास से भी कई लोग पहुँचे जिन्होंने सीएम को बारिश में मकान गिरने की समस्या के बारे में बताया। सीएम सबकी समस्या को सुन कलेक्टर को तुरन्त कार्यवाई करने निर्देश दिए। इससे पहले सीएम ने हेलीपेड पर कांग्रेस के कई नेताओं से भी मुलाकात की। इसके बाद सीएम सीधे सर्किट हाउस पहुँचे जहा करीब घन्टे पर आराम किया।

Advertisement
विज्ञापन
पूर्व विधायक मेघवाल के कंधे पर सीएम ने रखा हाथ

जैसे ही सीएम गहलोत हेलीकॉप्टर से उतरे तो वहाँ अगवानी के पुखराज पाराशर के साथ पूर्व विधायक जालोर रामलाल मेघवाल भी साथ रहे। सीएम ने हेलीकॉप्टर से उतरने के लोगों से मिलने के लिए पैदल ही चल पड़े उस दौरान सीएम ने रामलाल मेघवाल के कंधे पर हाथ रखा जो चर्चा का विषय बना। मेघवाल जालोर विधानसभा क्षेत्र से टिकट के दावेदार है। अब सीएम की ओर से मिली तवज्जो से काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं।

वेडिया आईपुरा में पांच दिनों से भूखे बैठे हैं लोग

यहां हेलीपेड पर आसपास के गांवों के कई लोग मौजूद थे। जहां मुख्यमंत्री ने उनसे हालचाल जाने। इस दौरान वेडिया आईपुरा से आये लोगों ने कहा कि बाढ़ से घिरे होने के कारण चार दिनों से भूखे बैठे है। कोई सुविधा नहीं मिल पा रही है। इस दौरान सीएम ने उसे दिलासा देते हुए व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही रायथल, उण समेत आसपास के अन्य गांवों के लोग भी बारिश से घर टूटने की शिकायत लेकर पहुंचे। मुख्यमंत्री ने यहां महिलाओं को महंगाई से राहत शिविर के बारे में भी जानकारी ली और गारंटी कार्ड के बारे में जानकारी ली। इस दौरान मंत्री गोविंदराम मेघवाल, डॉ समरजीतसिंह, सवाराम पटेल, भूराराम सीरवी, मंजू मेघवाल, नैनसिंह राजपुरोहित, शमशेर अली, जगदीश चौधरी, जुल्फिकार भुट्टो, वीरेंद्र जोशी, उमसिंह चांदराई, आमसिंह परिहार, भवरलाल मेघवाल, योगेंद्रसिंह कुम्पावत, छैलसिंह बिठुडा, भोमाराम मेघवाल, सवाईसिंह, सरोज चौधरी, भरत मेघवाल, रमेश देवासी, सुष्मिता गर्ग, प्रेमसिंह मीठड़ी, खीमाराम चौधरी, कृष्ण कुमार मेघवाल, दीपक थांवला, बसन्त सुथार, लक्ष्मण सांखला समेत कांग्रेसी मौजूद थे। शाम को सर्किट हाउस में मुख्यमंत्री से मिलने के लिए सांसद देवजी पटेल भी पहुंचे।

Advertisement
विज्ञापन

Related posts

चौदह साल पुराने दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार, मंदिर में पुजारी बनकर छिपा था आरोपी

ddtnews

नामांकन में ताकत दिखाने के प्रयास में बसपा के लालसिंह, सभा पर टिकी है पूर्व मुख्यमंत्री की निगाहें

ddtnews

नारणावास में 6 दिवसीय आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न

ddtnews

पूर्व प्रधानमंत्री गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस ने श्रद्धा सुमन अर्पित किए

ddtnews

शिक्षक पर कर्तव्य एवं दायित्व का निर्वहन कर भारत को परम वैभवशाली बनाने की जिम्मेदारी – घनश्याम

ddtnews

बागरा : यहां देवी-देवताओं की वेशभूषा पहनकर पुरुष खेलते हैं गरबा

ddtnews

Leave a Comment