DDT News
अपराधजालोर

भूपेंद्रसिंह होंगे आहोर के पहले वृत्ताधिकारी … क्या लक्ष्मण मीणा की मौत का कर पाएंगे पर्दाफाश??

– सांचौर, रानीवाड़ा, भीनमाल और साइबर क्राइम के डीएसपी भी बदले
– नया बना है आहोर पुलिस वृत
जालोर.
पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने रविवार को 142 आरपीएस अधिकारियों के तबादले किए हैं। जिसके तहत जालौर जिले के 5 में से 4 वृत्ताधिकारी नए लगाए गए हैं। डीजीपी मिश्रा की ओर से जारी की गई लिस्ट में डीडीटी को मिली जानकारी के अनुसार बजट घोषणा में जालोर जिले के आहोर को नया पुलिस वृत घोषणा की थी। अब नए पुलिस वृत आहोर के लिए पहली बार भूपेंद्रसिंह को वृत्ताधिकारी का दायित्व सौंपा गया है। भूपेंद्रसिंह इससे पहले बिलाड़ा (जोधपुर) में वृत्ताधिकारी लगे हुए थे।
इसी प्रकार देरावरसिंह सोढा को जालौर जोधपुर आयुक्तालय से साइबर क्राइम जालौर  में डीएसपी लगाया गया है। जालोर साइबर क्राइम के डीएसपी राजेश टेलर को केशोरायपाटन (बूंदी) के लिए तबादला किया गया है। इसी प्रकार पुष्पेंद्र वर्मा को जोधपुर से रानीवाड़ा वृत्ताधिकारी लगाया गया है। वहीं डीएसपी हिम्मतसिंह चारण को साइबर क्राइम नागौर से भीनमाल वृत्ताधिकारी लगाया गया है। जबकि  सीमा चोपड़ा को भीनमाल से जैतारण वृत्ताधिकारी लगाया गया है। इसी प्रकार मांगीलाल राठौड़ को आयुक्तालय जोधपुर से सांचौर का वृत्ताधिकारी लगाया गया है।
आहोर वृत्ताधिकारी के सामने चुनौती
जालोर जिले में आहोर नया वृत है। इसके अधीन आहोर, भाद्राजून, नोसरा थाना क्षेत्र आता है। आहोर उपखण्ड क्षेत्र में कई ब्लाइंड मर्डर केस अभी भी रहस्य बने हुए हैं। जिनका खुलासा अभी बाकी है। शंखवाली के नन्हे मासूम लक्ष्मण मीणा की मौत का पर्दाफाश नहीं हुआ है, घटना को दो साल बीतने को आये है। इसी प्रकार एक बुजुर्ग महिला व पुरुष की हत्याएं भी राज बनी हुई है। साथ ही क्षेत्र में बड़ी आपराधिक घटनाएं हो रही है। पिछले दिनों पादरली में हुई किशोरसिंह की हत्या का सही व समय पर अनुसंधान पूर्ण कर घटना में शामिल अपराधियों को सजा दिलाने की भी चुनौती नए वृत्ताधिकारी भूपेंद्रसिंह के सामने है।
विज्ञापन
विज्ञापन
दो डीएसपी के नाम रिजर्व
रानीवाड़ा व सांचौर के लिए नए वृत्ताधिकारी लगाने और तुरंत प्रभाव से ज्वाइन करने के आदेश तो दे दिए गए हैं, लेकिन वर्तमान में रानीवाड़ा के वृत्ताधिकारी शंकरलाल व सांचौर वृत्ताधिकारी रूपसिंह इंदा का नाम तबादला सूची में शामिल नहीं किया गया है। चूंकि सांचौर नया जिला गठन प्रक्रिया जारी होने के कारण सांचौर और रानीवाड़ा वृत्ताधिकारी क्षेत्र नए जिले के अधीन सम्भावित है। ऐसे में यहां व्यवस्थाओं में भी स्थान दिया जा सकता है।
पूर्व के अनुभवी अधिकारी लगे
सांचौर नया जिला गठन की तैयारियां जोरों पर है। नए वृत्ताधिकारी मांगीलाल राठौड़ इससे पहले सांचौर थानाधिकारी के रूप में काम कर चुके है। इसलिए यहां के क्षेत्र का अनुभव होने के कारण बेहतर पुलिसिंग में फायदा भी मिलेगा। इसी प्रकार भीनमाल में लगाये गए नए वृत्ताधिकारी हिम्मतसिंह चारण पूर्व में जालोर वृत्ताधिकारी रह चुके है। इसलिए इन्हें भी जिले के अनुभव का फायदा रहेगा।
विज्ञापन
विज्ञापन

Related posts

कोर्ट तक पहुंची दो विधायकों की रिश्तेदारी : जालोर विधायक जोगेश्वर गर्ग के बेटे को भेजा जेल

ddtnews

आहोर कांग्रेस ने गुड़ाबालोतान से हरजी तक निकाली पदयात्रा

ddtnews

कलेक्टर की गैर मौजूदगी में डेढ़ घण्टे देरी से शुरू हुई जालोर जिला परिषद की बैठक में दो बार अधिकारियों ने किया वॉकआउट, नर्वस नजर आए जिला प्रमुख

ddtnews

जालोर में सरकारी धन की लूट मची है, समय आएगा तब हम जांच करवाएंगे – राठौड़

ddtnews

मुफ्त के सिस्टम को बंद कर स्वावलंबी बनाने का रहेगा प्रयास-गर्ग

ddtnews

देवकी में एक साल में दस चोरियां, एक का भी खुलासा नहीं, ग्रामीणों में नाराजगी

ddtnews

Leave a Comment