DDT News
जालोरराजनीति

जालोर में सरकारी धन की लूट मची है, समय आएगा तब हम जांच करवाएंगे – राठौड़

  • जालोर में रँगदारिया वसूलकर पेपरमाफ़ियाओं को संरक्षण दे रहे

जालोर. भाजपा के वरिष्ठ नेता व राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि जालौर में सरकारी धन की लूट मची हुई है, विकास के नाम पर यहां लूट की जा रही है। रंगदारी लेकर पेपर माफियाओं को संरक्षण दिया जा रहा है, समय आएगा तब हम उसकी भी जांच करवाएंगे। राठौड़ सोमवार को जालौर के ग्रेनाइट एसोसिएशन भवन में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आबूरोड दौरे को लेकर राठौड़ जालौर पहुंचे, जहां भाजपा के अलग-अलग मंडलों की बैठक लेने के बाद पत्रकार वार्ता में उन्होंने राज्य सरकार पर कई प्रकार के गंभीर आरोप लगाए।

विज्ञापन
विज्ञापन

इस दौरान उन्होंने कहा कि गहलोत की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर जिस प्रकार से कलंकित करने का आरोप लगाया गया है, वे बेबुनियाद है अगर गहलोत के पास कोई प्रमाण है तो वो इस संबंधित मामला दर्ज करवाएं। उन्होंने कहा कि जालौर में विकास के नाम पर भ्रष्टाचार कर सरकारी धन को लूटा जा रहा है। जालौर में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है। अपराध दिनों दिन बढ़ता जा रहा है।

Advertisement
कोयला खरीद में घोटाले का आरोप

उन्होंने कहा राजस्थान सरकार की ओर से अडाणी से कोयला खरीद में एक्ट का उल्लंघन करते हुए बड़े स्तर पर घोटाला किया गया। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष गहलोत सरकार ने अडाणी समूह को सिंगल टेंडर कर आरटीपीबी एक्ट की धज्जियां उड़ाते हुए 1 हजार 42 करोड़ का 5 मिलियन 79 लाख टन कोयला 18 हजार मीट्रिक टन रुपए के हिसाब से खरीदा। और इस बार फिर वो ही इंडोनेशिया से कोयला खरीद 15 हजार रुपए मीट्रिक टन के हिसाब से खरीद रहे है, तो वो तीन हजार रुपए ज्यादा कहाँ गए, यह बड़ा घोटाला है।

सरकार की विदाई तय

उन्होंने कहा कि सरकार में सर्वाधिक रंगदारी वसूलने का कार्य किया गया है, व्यापारियों को प्रोटेक्शन देने के नाम पर वसूली की गई। इस कारण इस सरकार की विदाई तय है। महंगाई से राहत के नाम पर चलाए जा रहे कैंपों में यह भी तय नहीं हो पा रहा है ये कैंप सरकार के हैं या कांग्रेस संगठन के। क्योंकि बैनरों पर तो संगठन के नेताओं के फोटो लगे हुए हैं।

Advertisement
विज्ञापन
विज्ञापन
बजरंग दल पर बैन लगाने की गहलोत में हिम्मत नहीं

उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत ने कर्नाटक में जाकर बजरंग दल पर बैन लगाने का मेनिफेस्टो जारी किया। उन्होंने कहा कि गहलोत में इतनी हिम्मत नहीं है कि राजस्थान में यह काम कर सकें । उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार की इंटेलिजेंस ने पूर्व में रिपोर्ट में कहा था कि आदिवासी क्षेत्रों में सिम्मी व आईएसआईएसआई जैसे संगठन धर्मांतरण जैसी गतिविधियां बढ़ा रहे है, जिस पर रोक लगाना आवश्यक है। गहलोत सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए। बॉर्डर पर मादक पदार्थो की तस्करी हो रही है, उसे रोकने की जरूरत है। इस दौरान जालोर विधायक जोगेश्वर गर्ग, जिलाध्यक्ष श्रवणसिंह राव, आहोर के पूर्व विधायक शंकरसिंह राजपुरोहित मौजूद थे।

Advertisement

Related posts

जालोर जिले में लगभग 3 हजार 500 पुलिस, होमगार्ड एवं सीएपीएफ के जवान मतदान दिवस पर शांति एवं कानून व्यवस्था के लिए रहेंगे तैनात

ddtnews

सांसद पटेल की सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात

ddtnews

कृष्णा हॉस्पिटल का निशुल्क शिविर 17 को चवरछा में, फ्री मिलेगी दवाइयां

ddtnews

माही का पानी लाने को लेकर डीपीआर बनाने के निर्देश, संघर्ष समिति ने जताया आभार

ddtnews

पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष बालावत ने गोदन-बिशनगढ़ सड़क को लेकर मुख्यमंत्री को भेजी शिकायत

ddtnews

जरूरत पड़ी तो कानून में भी संशोधन करेंगे – डोटासरा

ddtnews

Leave a Comment