DDT News
जालोरशिक्षा

जालोर में पीर शांतिनाथ महाराज की स्मृति में आदर्श विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक बालिका विद्यालय का हुआ भूमि पूजन, अत्याधुनिक सुविधायुक्त होगा विद्यालय

जालोर.  शहर के सिरे मंदिर रोड़ स्थित आदर्श विद्या मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय की भूमि पर शुक्रवार को पीर शांतिनाथ महाराज के शिष्य गंगानाथ महाराज के सानिध्य में योगी प्रेमनाथ महाराज, योगी रेवतीनाथ महाराज उदयपुर के कर कमलों से वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भूमि पूजन एवं शिलान्यास कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। ब्रह्मलीन पीर शांतिनाथ महाराज की इच्छा अनुसार उनके शिष्य पीर गंगानाथ महाराज ने बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के उद्देष्य से अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त बालिका विद्यालय भवन की नींव रखी।

विज्ञापन
विज्ञापन

चार्तुमास सेवा समिति के व्यवस्थापक पारसमल परमार ने बताया कि ब्रह्मलीन शांतिनाथ महाराज की वर्षों पहले से कामना थी कि बालिकाओं की शिक्षा के लिए एक सिरे मंदिर रोड़ स्थित आदर्श विद्यालय भवन में विशाल बालिका विद्यालय बने जिसमें बालिकाएँ भारतीय संस्कृति के अनुसार शिक्षा प्राप्त करें तथा देश, प्रदेश व समाज का नाम रोशन करे। शुक्रवार को पीर षांतिनाथ महाराज के शिष्य पीर गंगानाथ महाराज ने बालिका विद्यालय की नींव रखकर उनकी मनोकामना को पूर्ण करने का कार्य किया है। इस अवसर पर भैरुनाथ अखाडे के योगी प्रेमनाथ महाराज, योगी रेवतीनाथ महाराज उदयपुर, योगी ईष्वरनाथ महाराज, योगी गोविन्दनाथ महाराज, योगी सागरनाथ महाराज के कर कमलों से पंडित प्यारेलाल शर्मा द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के साथ आदर्श विद्या मंदिर विद्यालय में बालिका विद्यालय की नींव रखी गई। वही आदर्श विद्या मंदिर के मैया बहिनों ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ कार्यक्रम में चार चांद लगा दिये। बालिका विद्यालय में अत्याधुनिक सुविधा से सुसज्जित अठाईस कमरे, दो हॉल, स्टॉफ रूम, कार्यालय, कम्प्यूटर कक्ष, विज्ञान लैब, ऑन लाईन पढाई की सुविधा, इण्डोर हॉल सहित खेल मैदान में बालिकाएं विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिता की तैयारियों कर सकेगी।

Advertisement
विज्ञापन
विज्ञापन

विद्या भारती जोधपुर के प्रांत सचिव महेन्द्र कुमार दवे ने स्वागत भाषण के साथ सभी के सामने विद्या भारती का परिचय कराया। तथा उन्होंने कहा कि विद्या भारती के विद्यालय बालक बालिकाओं के सर्वांगीण विकास तथा देशभक्त बालक बालिकाओं के निर्माण के लिए कटिबद्ध हैं। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक नंदलाल (बाबाजी) के उदबोधन से पूर्व विद्या मंदिर की आचार्य बहिन प्रियंका सूर्या द्वारा भारतीय शिक्षा का दर्शन अमृत है छलकाएगे….. प्रेरणादायी भाव गीत प्रस्तुत किया गया। मुख्य वक्ता नंदलाल बाबाजी ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज भारतीय संस्कृति के महत्व को पूरी दुनिय समझ रही हैं। दुनिया भारत के चरणों में आने को लालायित है। उन्होंने उदाहरण देते हुए बताया कि सऊदी अरब ने विजन 2030 को जारी करते हुए रामायण की शिक्षाओं को पाठ्यक्रम में सम्मिलित करने का संकल्प लिया। यूरोप के देश यह स्वीकार करते हैं कि प्राचीनकाल में भारत से ऋषि मुनि हमारे यहाँ आये थे। जिन्होंने हमें कृतार्थ किया। उन्होंने भैरुनाथ अखाडे के पीर गंगानाथ महाराज के द्वारा बालिका शिक्षा को बढावा देने के लिए आदर्श विद्या मंदिर बालिका विद्यालय के निर्माण के संकल्प की भूरी भूरी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि पुज्य संतों के आर्शीवाद से ही भारतीय संस्कृति जीवित है। इस अवसर पर भवन के शिल्पी नवीन सुथार का भी सम्मान किया गया। कार्यक्रम के अंत में आदर्श शिक्षण संस्थान के जिलाध्यक्ष कुशलराज सुथार ने सबका आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का समापन सर्वे भवन्तु सुखिनः की मंगलकामना से किया गया। कार्यक्रम का संचालन एनसीपीई के सदस्य तथा वरिष्ठ अध्यापक संदीप जोशी ने किया। इस अवसर पर महापुरूषों का गलियारा सजाया गया।

इस अवसर पर योगेन्द्र (प्रांत प्रचारक रा.स्व.संघ), खीमाराम (प्रांत कार्यवाह रा. स्व.संघ), श्याम सिंह (विभाग प्रचारक रा.स्व.संघ), राजेश कुमार (सह प्रांत प्रचारक रा.स्व. संघ), अमृतलाल (शताब्दी विस्तारक रा.स्व.संघ), प्रकाश जी (राष्ट्रीय संगठन मंत्री लघु उद्योग भारती), जगदीश सोनी (विभाग कार्यवाह रा.स्व.संघ), विद्या भारती के प्रांत निरीक्षक गंगाविष्णु विश्नोई, प्रांत उपाध्यक्ष नीलम पवार, आ.शि.संजालोर के जिला व्यवस्थापक जानकी प्रसाद गुप्ता, सहजिला व्यवस्थापक रतनलाल अग्रवाल, कोषाध्यक्ष हरीश सुथार, जिला निरीक्षक नरेन्द्र आचार्य आ.वि.मं.उ.मा.के अध्यक्ष जगदीश प्रसाद दवे, व्यवस्थापक भरत गोयल, कोषाध्यक्ष सत्यम मोर बालिका विद्यालय के अध्यक्ष अनिल धारीवाल, चम्पालाल भंडारी, भैरूमल सेठ, चातुर्मास सेवा समिति के अध्यक्ष मीठालाल दर्जी, रविन्द्र सिंह बालावत, विधाययक जोगेश्वर गर्ग, जययनाराण मेघवाल जिला शिक्षा अधिकारी चुन्नीलाल परिहार, सुमेरसिंह, डॉ. कृष्णा अरोडा, नैनसिंह शंखवाली, राजेन्द्र सोलंकी, नैनाराम लुहार,लालचंद प्रजापत, ओबाराम देवासी, चम्पालाल सुथार, अमरसिंह महेषपुरा, सुमेरसिंह धानपुर, तख्तसिंह पहाडपुरा, चम्पालाल सोनी, हीरालाल घांची, लच्छीराम घांची, खसाराम सांखला सहित आदर्ष विद्या मंदिर जालोर के पदाधिकारी एवं आचार्य मौजूद रहे।

Advertisement

Related posts

कांग्रेस का 138 वां स्थापना दिवस मनाया, पार्टी को मजबूत करने का लिया संकल्प

ddtnews

नर्स दिवस से पहले शुरू हुआ नर्सेज सप्ताह, होगी कई प्रतियोगिताएं

ddtnews

सुराणा प्रकरण में इंद्र मेघवाल के पिता बोले – सरकार ने हमारी मांग पूरी नहीं की, कांग्रेस पार्टी ने 20 लाख रुपए दिए, 13 अगस्त को होगा कार्यक्रम

ddtnews

जालोर में 16 परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित होगी रीट परीक्षा

ddtnews

राजस्थान के इन जिलों में बारिश के साथ गिरेंगे ओले, मौसम विभाग का अलर्ट जारी

ddtnews

सुराणा प्रकरण : कांग्रेस सांसद दिग्विजयसिंह के विरुद्ध जालोर कोतवाली में मामला दर्ज

ddtnews

Leave a Comment